छात्रों का दा’वा- जामिया प्रो’टेस्ट को द’बाने के लिए पुलि’स ने की हिं’सा, एक छात्र की मौ’त, लाइब्रेरी पर भी हम’ला

December 15, 2019 by No Comments

नई दिल्ली: जामि’या मिलिया विश्विद्यालय में नाग’रिकता संशोधन विधेयक के ख़िला’फ़ प्र’दर्शन कर रहे छा’त्रों का प्रद’र्शन आज अचा’नक ही हिं’सक हो गया. छात्रों ने दा’वा किया है कि हिं’सा पु’लिस की ओर से की गई. सोशल मी’डिया पर इस तरह का वी’डियो चल रहा है जिसमें साफ़ दिख रहा है कि पुलि’स की ओर से पब्लिक ट्रांसपोर्ट की एक ख़ाली बस को आ’ग के हवा’ले करने की कोशिश हो रही है. छात्रों ने दा’वा किया है कि पु’लिस के हमले में कई छात्र ज़’ख़्मी हुए हैं और एक छात्र के मारे जाने की ख़बर है.

सबसे गंभी’र बात ये है कि पुलि’स जामिया मिलिया विश्विद्यालय के अन्दर बिना किसी इजाज़’त के घुसी, छात्रों ने अपने आपको बचाने के लिए यूनिवर्सिटी की लाइब्रेरी में छुप गए तब पु’लिस ने लाइब्रेरी पर भी आँसू गैस के गो’ले छोड़े. पुलि’स के ऊपर ये भी आ’रोप है कि उसने लड़कियों के साथ बदतमी’ज़ी की. दा’वा किया जा रहा है कि जा’मिया के आस पास के इलाक़े में भी पुलि’स ने छापेमारी की है.

पु’लिस की इस कार्यवाई के बाद दिल्ली के अलग अलग विश्विद्यालयों के छात्रों ने पुलि’स हेडक्वार्टर के बाहर प्रदर्श’न कर रहे हैं.सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस बारे में ट्वीट किया है. उन्होंने ट्वीट किया,”जिस प्रकार जामिया मिलिया के छात्र-छात्राओं से बर्ब’रतापूर्ण हिं’सा हुई है और विद्यार्थी अभी भी फँसे हुए वो बेहद निंदनीय है. पूरे देश को हिंसा में फूँ;क देना ही क्या आज के सत्ताधारियों का असली ‘गुजरात मॉडल’ है.”

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया,”इस बात की तुरंत निष्पक्ष जाँच होनी चाहिए कि बसों में आग लगने से पहले ये वर्दी वाले लोग बसों में पीले और सफ़ेद रंग वाली केन से क्या डाल रहे है..? और ये किसके इशारे पर किया गया? फ़ोटो में साफ़ दिख रहा है कि बीजेपी ने घटि’या राजनीति करते हुए पु’लिस से ये आग लगवाई है.”

सिसोदिया ने एक अन्य ट्वीट में कहा,”दिल्ली में साउथ ईस्ट जिले में ओखला, जामिया, न्यू फ्रैंड्स कालोनी, मदनपुर खादर क्षेत्र के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल कल बंद रहेंगे. वर्तमान हालात को देखते हुए दिल्ली सरकार ने स्कूल बंद रखने का निर्णय लिया है.”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *