ईरान के लाल झंडा फहराने के बाद अमरीका ने किया बड़ा एला’न…

अरब दुनिया ईरान ईराक़ दुनिया

ईरान और अमरीका के बीच सम्बन्ध लगातार ख़’राब हो रहे हैं. अमरीका द्वारा ईरान के टॉप जनरल क़ासिम सुलेमानी की ह’त्या के बाद से ही ऐसा लग रहा है कि दोनों मुल्क युद्ध के रास्ते पर बढ़ रहे हैं. ईरान द्वारा बदले की घोषणा किए जाने के बाद से ही अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ये समझाने में लगे हैं कि उनकी सेना का ऑपरेशन रक्षात्मक था. परन्तु अधिकतर देश ऐसा नहीं मानते.

अब ट्रम्प ने ईरान को एक बार फिर धम’की दी है. उन्होंने एक ट्वीट करके कहा,”उन्होंने हम पर ह’मला किया और हमने उन्हें जवाब दिया. अगर उन्होंने फिर से हम’ला किया तो मैं उन्हें सख्त लहजे में नसीहत देना चाहता हूं कि ऐसा हरगिज न करें क्योंकि इस बार हम उनको ऐसा जवाब देंगे, जैसा शायद ही पहले कभी दिया गया हो.”

ट्रंप ने एक और ट्वीट में लिखा,”अमेरिका ने दो ट्रिलियन डॉलर सिर्फ सै’न्य सामानों (हथियारों) पर खर्च किए हैं. हम सबसे बड़े हैं और दुनिया में सबसे बेहतर हैं. अगर ईरान अमेरिकी बेस या किसी अमेरिकी नागरिक पर ह’मला करता है तो हम उनके पास ब्रांड न्यू खूबसूरत हथियार भेजेंगे और वो भी बगैर किसी हिचक के.”अमरीका और ईरान के बीच सीधी ल’ड़ाई न हो इसकी कोशिशें शुरू हो गई हैं. सूत्रों के मुताबिक़ अमरीका ईरान से सीधा युद्ध नहीं चाहता. परन्तु अमरीका द्वारा टॉप जनरल की ह’त्या के बाद मामला काफ़ी बढ़ गया है.

ख़बर है कि अमरीका ने तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन से कहा है कि वो इस सिलिसले में दोनों देशों के नेताओं से बात करें कि युद्ध जैसी स्थिति न बने. अमरीका ने तुर्की को अपनी कार्यवाई के सिलसिले में बताया कि ये ग़ैर-ज़रूरी क़दम नहीं था. तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन क्षेत्र के सबसे ताक़तवर नेताओं में से एक हैं. उन्होंने ईरान और ईराक़ दोनों के शीर्ष नेताओं से बात की है.

ईराक़ी राष्ट्रपति बरहम सालेह से फ़ोन पर हुई बात में तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा कि वो ईराक़ को कभी भी युद्ध का केंद्र नहीं बनने देंगे. वहीँ ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा कि उनकी ल’ड़ाई आ’तंकवाद के ख़िलाफ़ जारी रहेगी. एर्दोआन ने भी इस बात का भरोसा जताया है कि वो इस मुश्किल घड़ी में साथ खड़े हैं. इस बीच ऐसी ख़बर है कि ईरान ने जमकारन मस्जिद पर लाल झंडा फहराया है.
जानकार मानते हैं कि इस झंडे का अर्थ है कि इमरजेंसी जैसी स्थिति है और जो स्थिति है उसका बदला दुश्मन से लिया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *