तेहरान: ईरान और अमरीका के सम्बन्ध लगातार ख़राब होते जा रहे हैं. सम्बन्ध सुधार करने को लेकर कई तरह की कोशिशें हुईं लेकिन कोई भी कोशिश विशेष कामयाबी न दिला सकी. अब ख़बर है कि ईरान के रिवॉल्यूशनरी गार्ड के प्रमुख मेजर जनरल होसियन सलामी ने इशारा किया है कि अब ईरान अमेरिका से बदला लेने और उसे सबक सिखाने के मूड में है। जनरल ने कहा है कि हमें अपनी तलवारें निकाल लेनी चाहिए। अब वक्त आ गया है कि उन्हें सबक सिखाया जाए।

बता दें कि इस साल सितंबर में सऊदी अरब के तेल संयंत्र पर हुए ह’मले के बाद से ही पूरे विश्व का माहौल गरमा गया है। हालांकि, सऊदी अरब के तेल संयंत्रों पर हुए हमलों की ज़िम्मेदारी हूती विद्रोहियों ने ली थी, लेकिन अमेरिका और सऊदी अरब ने इस हम’ले के पीछे ईरान का शामिल होना बताया था। अब जबकि इस घटना को हुए क़रीब 4 महीने का वक़्त बीत चुका है, तो अब तेहरान में ईरान के सुरक्षा अधिकारी एकत्र हुए हैं। सब ने मिलकर मीटिंग की है।

Hassan Rouhani- Donald Trump

इस मीटिंग में सब ने मिलकर अमेरिका को सबक सिखाने पर चर्चा की है। अमेरिका के किसी बड़े टारगेट को निशाना बनाने पर सहमति हुई है। जिसमें अमेरिका के मिलिट्री बेस भी शामिल हैं। और यह ममिलिट्री बेस सऊदी अरब में हैं। वहीं कुछ अधिकारी अमेरिका पर सीधे ह’मले के विरुद्ध हैं, क्योंकि उन्हें इस बात का डर है कि कहीं अमेरिका ख़तरनाक तरीके से जवाबी कार्रवाई को अंजाम न दे।ईरान में अमेरिका के ख़िलाफ़ नाराज़गी दो मुख्य कारणों से है। पहला है, न्यूक्लीयर ट्रीटी ख़त्म करना, और दूसरा, की वजह से और दूसरा, ईरान पर भारी पाबंदी। बता दें कि अमेरिका की पाबंदियों की वजह से ईरान से होने वाली तेल ख़रीदी में कमी आयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *