लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ अपने शानदार इतिहास और भाईचारे की संस्कृति के लिए जानी जाती है. कहा जाता है कि यहाँ कभी भी धार्मिक इत्तिहाद कम नहीं हुआ. कई बार ये शहर उजड़ा और बना लेकिन शहर ने हमेशा अपनी संस्कृति को बचा कर रखा. लखनऊ में अगर आप जाएँगे तो आपको मालूम होगा कि यहाँ पर हर मज़हब और हर भाषा के लिए सम्मान की भावना है. यहाँ पर लोगों को नी’चा दिखाना नहीं बल्कि उनका हौसला बढ़ाया जाता है.

इसी वजह से यहाँ के चौराहों पर रौनक नज़र आती है. यहाँ के एक चौराहे का नाम है हज़रतगंज चौराहा. इस चौराहे को शहर के सबसे अच्छे चौराहों में से एक माना जाता है लेकिन अब इसका नाम ब’दला जा रहा है. इस चौराहे को अब अटल चौराहे के नाम से जाना जाएगा. भारत रत्न व देश के पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत अटल बिहारी वाजपेई के नाम पर लखनऊ शहर का मशहूर हजरतगंज चौराहा अब अटल चौराहा के नाम से जाना जाएगा।

लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया ने शुक्रवार को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्यतिथि पर इसकी आधिका’रिक घो’षणा की है। खास खबर पर छपी खबर के अनुसार, महापौर ने बताया कि हजरतगंज चौराहे का नाम पूर्व प्रधानमंत्री और लखनऊ से सांसद रह चुके दि’वंगत अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर कर दिया गया है।

अब इसे अटल चौक के नाम से जाना जाएगा। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के बाद से ही चर्चा चल रही थी कि उनके नाम पर सड़कों और चौराहों का नामकरण किया जाएगा, और उसी के तहत हजरतगंज चौराहे का नाम अटल के नाम पर किया गया है। इसके अलावा इस्माइलगंज के डिग्री कॉलेज को भी अब अटल बिहारी वाजपेयी नगर-निगम डिग्री कॉलेज के नाम से जाना जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *