कोरोना वायरस की वजह से हज को लेकर नए नियम हुए जारी, इस तरह करना होगा अब..

July 6, 2020 by No Comments

रियाद: कोरोना की वजह से दुनिया भर में एक अजीब सी स्थिति है.इस बीमारी से बचने के लिए सभी मुल्क की सरकारों ने अपने अपने हिसाबस से कोशिशें की हैं. सऊदी अरब की सरकार ने भी इसको देखते हुए अपनी जीवन शैली में कई बदलाव किये हैं. मुस्लिम समाज के लिए अहम् हज में भी अब अलग प्रोटोकॉल बनाये गए हैं. इस वर्ष वही लोग हज कर सकेंगे जो सऊदी अरब में रह रहे हैं. बाहर के लोगों को इस बार अनुमति नहीं है.

इसके अतिरिक्त उनकी भी संख्या सीमित होगी. जो प्रोटोकॉल जारी किया गया है उसके मुताबिक़ हज यात्रियों के एक जगह इकट्ठा होने और बैठकें करने पर रोक लगा दी गई है। ऐसा पहली बार हुआ है जब विदेशों से हज के लिए आने वाले मुसलमानों को इसके लिए रोक दिया गया हो, इस साल हज के दौरान ख़ाना-ए-काबा को छूने पर प्रतिबंध रहेगा. काबे के तवाफ के दौरान डेढ़ मीटर की शारीरिक दूरी का नियम भी बनाया गया है और इसी के साथ सामूहिक नमाज के दौरान में भी दूरी रखने को कहा गया है.

प्रोटोकॉल में कहा गया है कि हज के दौरान जाने वाले स्थल जैसे कि मोना, मुजदलिफा और अराफ़ात तक वे ही जा पाएंगे, जिनके पास हज परमिट होगा। यह परमिट 19 जुलाई से लेकर 2 अगस्त के लिए लागू रहेगा। हज के दौरान यात्रियों के साथ-साथ आयोजकों और कर्मचारियों को हर समय मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया गया है। मुसलमानों के लिए हज पाँच फ़रायज़ में से एक है, अगर कोई मुसलमान संपन्न है और अपनी ज़िम्मेदारियों से फ़ारिग़ है और साथ ही तंदरुस्त भी है, तो उसको ज़िन्दगी में एक बार हज ज़रूर करना है. हर साल मक्का में 20 लाख मुसलमान हज करने के लिए पहुँचते हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *