नई दिल्ली: एक तरफ़ कर्णाटक में कांग्रेस पार्टी इस कोशिश में है कि उसके गठबंधन की सरकार बच जाए वहीँ उसके लिए गोवा से भी अच्छी ख़बर नहीं आ रही है. गोवा से जो ख़बर आ रही है वो पार्टी के लिए बड़ा संकट खड़ी करने वाली है. एक रिपोर्ट में आया है कि कांग्रेस के 15 में से 10 विधायकों ने पार्टी छोड़ दी है. साथ ही ये भी कहा जा रहा है कि ये सभी भाजपा में शामिल होने की तैयारी में हैं.

गोवा में अभी भाजपा की ही सरकार है लेकिन कांग्रेस के विधायक अगर भाजपा में जाते हैं तो भाजपा के लिए बड़े फ़ायदे वाला साबित होगा. इसकी वजह ये है कि गोवा में भाजपा को छोटे दलों से छुटकारा मिल जाएगा और वो अकेले अपने दम पर सरकार बनाने में कामयाब हो जाएगी. ऐसा होने पर प्रदेश में कांग्रेस के महज़ 5 विधायक रह जाएँगे.

Amit Shah- Rahul Gandhi

उल्लेखनीय है कि गोवा में 40 सदस्यीय विधानसभा है. इसमें से 15 विधायक कांग्रेस के हैं. अब ख़बर है कि 10 विधायकों ने इस्तीफ़ा दे दिया है. इन सभी ने विधानसभा अध्यक्ष राजेश पाटनेकर से मुलाक़ात की है. इस ख़बर के आते ही सियासी सरगर्मी तेज़ हो गई है.आपको बता दें कि गोवा की 40 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा के 17, कांग्रेस के 15, जीपीएफ के 3, एमजीपी का एक, राकांपा के दो और 2 निर्दलीय विधायक हैं. जिन कांग्रेसी विधायकों ने पार्टी छोड़ी है उनमें बाबू कावलेकर, बाबुश मोनसेराट, उनकी पत्नी जेनिफर मोनसेरेट, टोनी फर्नांडिस, फ्रांसिस सिल्वेरा, फिलीप नेरी रोड्रिग्स, क्लैफासियो, विलफ्रेड सा, नीलकांत हलंकर और इसिडोर फर्नांडीस शामिल हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *