कर्णाटक घटनाक्रम के बाद MP में कमलनाथ सरकार के बारे में शिवराज सिंह का आया बयान, जीतू पटवारी ने दिया ये जवाब..

भारत राजनीति

कर्णाटक में कांग्रेस-जेडीएस की सरकार के विश्वासमत हार जाने के बाद भाजपा के नेता उत्साह में दिखे. इस घटनाक्रम का असर कर्णाटक ही नहीं बल्कि देश के कई दूसरे हिस्सों में भी देखने को मिला. कर्णाटक में गठबंधन सरकार के गिर जाने के बाद ऐसी स्थिति है कि कुछ भाजपा नेता मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार के दिन पूरे होने की बातें भी कर रहे हैं.

मध्य प्रदेश के घटनाक्रम पर कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता जीतू पटवारी ने बयान दिया है कि भाजपा ने कमलनाथ सरकार को गिराने के लिए सभी क़िस्म के काम किए हैं. उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार में समस्याएँ पैदा करने की सभी कोशिशें की जा रही हैं लेकिन कमलनाथ की सरकार कुमारस्वामी की नहीं है.. उन्हें सात जन्म लेने पड़ेंगे यहाँ हॉर्स ट्रेडिंग करने के लिए.

वहीँ इस तरह की ख़बरों पर भाजपा के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि हम मध्य प्रदेश की सरकार गिराना नहीं चाहते. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकारों के गिरने के लिए कांग्रेस के ही नेता ज़िम्मेदार हैं..कांग्रेस में आंतरिक मतभेद हैं और बसपा-सपा का समर्थन भी परेशानी पैदा कर रहा है..अगर इस वजह से कुछ होता है तो हम कुछ नहीं कर सकते.

आपको बता दें कि लम्बे समय से चल रहे कर्णाटक सियासी संकट का एक अध्याय आज पूरा हो गया. कुमारस्वामी सरकार विश्वास मत नहीं बचा सकी. विश्वास मत के समर्थन में 99 वोट पड़े जबकि इसके विरोध में 105 वोट पड़े. बहुजन समाज पार्टी के विधायक ने इस प्रक्रिया में भाग नहीं लिया जिसकी वजह से बसपा प्रमुख मायावती ने अपने एकमात्र विधायक को निलंबित कर दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *