अंतरिक्ष से खींची गई मक्का की फ़ोटो, मुस्लिम एस्ट्रोनॉट ने किया…

यूएई के पूर्व वायुसेना पायलट 35 वर्षीय ह ज़्ज़ा-अ’ल-मंसू’री रूसी अंतरिक्ष यान सोयूज़ एमएस-15 से अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन गए हैं। अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन (ISS) जाने से पहले ह ज़्ज़ा ने कहा कि ‘मैं अपने देश के सपनों और महत्वाकांक्षाओं को नए आयाम पर ले जा रहा हूँ अ’ल्लाह मुझे इस मिशन में सफ़लता दें”। हम आपको बता दें कि ह’ज़्ज़ा UAE के पहले अंतरिक्ष यात्री हैं। उन्होंने वहाँ जाने के लिए भी अपनी पारम्परिक पोशाक पहनी थी।

स्पेस स्टेशन पर पहुंचने के बाद ह ज़्ज़ा-अ’ल-मंसू’री ने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम हैंडल से ग्रैंड म स्ज़िद (म’स्ज़िद-अ’ल-हर’म) की एक बेहद ख़ूबसूरत तस्वीर शेयर की है। साथ ही उन्होंने लिखा, “सेटेलाइट से म क्का की तस्वीर, यह वही जगह है जो मुस’लमा’नों के दिलों में रहती है, जहाँ प्रार्थना के लिए उनके सिर झुकते हैं”। इस तस्वीर को लाखों लोगों ने देखा और शेयर भी किया। ह ज़्ज़ा ने UAE की तस्वीरें भी शेयर कीं।

बता दें कि ह’ज़्ज़ा-अ’ल-मंसू’री के साथ अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री जेसिका मीर और रूसी कॉस्मोनॉट ओलेग स्क्रिपोचका भी गए हैं। इसमें से ओलेग की यह तीसरी बार अंतरिक्ष यात्रा है। यूएई के पूर्व सैन्य पायलट ह’ज़्ज़ा-अ’ल-मं’सूरी कि इस अंतरिक्ष यात्रा को अरब देशों के मीडिया ने प्रमुखता के साथ कवर किया है। वो देश का नाम रोशन करने वाले हैं सभी की नज़रें उन पर टिकी हैं।

सऊदी अरब ने 2021 में मंगल पर मानव रहि’त मि’शन ‘होप’ भेजने की योजना बनाई है और ऐसा करने वाला वह विश्व का पहला अरब देश होगा। अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन पहुंचकर ह ज़्ज़ा ने एक नया इतिहास रचने के साथ-साथ अरब देशों के सामने एक बेहतरीन उदाहरण भी पेश किया है। जिसके बाद अब अरब देश भी अंतरिक्ष के क्षेत्र में ख़ुद को व्यापक रूप से आगे बढ़ाने में दिलचस्पी लेंगे। साथ ही ह ज़्ज़ा-अ’ल-मंसू’री आज लोगों के बीच और सोशल मीडिया में एक ख़ास सेलिब्रिटी के रूप में पहचान बना चुके हैं।

About Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

View all posts by Arghwan Rabbhi →

Leave a Reply

Your email address will not be published.