यूरोप के मुस्लि’म देश के अस्तित्व के लिए होने जा रही है बड़ी मी’टिंग, अमरीका की ओर..

August 23, 2020 by No Comments

वाशिंगटन डीसी: दुनिया में कई ऐसे विवाद हैं जो लम्बे समय से चल रहे हैं लेकिन उनका निपटारा नहीं हो पा रहा है. कई जगह मामले ज़्यादा गंभीर हैं तो कई जगह मामले गंभीर हो सकते हैं. इसी तरह का एक विवाद है कोसोवो और सर्बिया के बीच. कोसोवो और सर्बिया के बीच जो विवाद है उसकी बुनियाद यूगोस्लाविया के विघटन से भी पहले से रखी जा चुकी थी.

अब यूगोस्लाविया की जगह सात देश आ चुके हैं जिनमें सर्बिया और कोसोवो भी हैं. कोसोवो सन 2008 में बना है लेकिन इसको अब तक सर्बिया ने मान्यता नहीं दी है. दोनों देश यूरोपियन युनियन का हिस्सा बनना चाहते हैं लेकिन ये विवाद उनके लिए रोड़ा बन रहा है. इसके निवारण के लिए संयुक्त राज्य अमरीका की ओर से पहले भी कोशिश हो चुकी है और ख़बर है कि एक बार फिर अमरीका दोनों का विवाद सुलझाने की कोशिश कर रहा है.

इस सिलसिले में अमरीकी वाइट हाउस में 4 सितम्बर को एक मीटिंग रखी गई है. इस मीटिंग में कोसोवो के प्रधानमंत्री अव्दुल्लाह होती और सर्बिया के राष्ट्रपति अलेकज़ैन्डर वुसिस भी भाग ले रहे हैं. दोनों ही नेताओं की ओर से कन्फर्म कर दिया गया है कि वो मीटिंग का हिस्सा होंगे. पहले इस मीटिंग को 2 सितम्बर को रखा गया था लेकिन शेड्यूल में कुछ इशू होने की वजह से इसको 4 सितम्बर किया गया है.

आपको बता दें कि सर्बिया की आबादी तक़रीबन 70 लाख है और यहाँ सर्बियाई मूल के ईसाई समाज की आबादी तक़रीबन 90 प्रतिशत है वहीँ कोसोवो की आबादी 18 लाख है जिसमें 95% कोसोवो मूल के सुन्नी मुसलमान हैं. बालकन्स के क्षेत्र में पड़ने वाले इन दोनों देशों के राजनैतिक विवाद ने यहाँ के विकास को भी कमज़ोर किया है. माना जा रहा है कि ये मीटिंग कोसोवो के लिए एक स्थाई अस्तित्व दे सकती है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *