को’रोना महामा’री ने एक भयंकर आर्थिक संकट भी दुनिया के सामने खड़ा कर दिया है. जहाँ वैश्विक स्तर पर ये कोशिशें हो रही हैं कि आर्थिक संकट ठीक हो वहीँ एक ऐसी ख़बर आ रही है जिसने पूरी दुनिया में हलचल पैदा कर दी है. कोरो’ना सं’कट के बीच माँग जिस तरह से घटी है उसके बाद अमरीकी कच्चे तेल की क़ीमत एक डॉलर से भी नीचे पहुँच गई हैं.आयरिश मार्किट वाच ने ट्वीट किया है कि अमरीकी क्रूड आयल के दाम 10 सेंट तक पहुँच गया है.

हालाँकि कुछ जानकार मान रहे हैं कि ये इसलिए भी हो रहा है क्यूंकि सऊदी अरब, रूस और अमरीका की कुछ कम्पनियों में तेल को लेकर समझौता नहीं बन पा रहा है. सऊदी अरब और रूस के बीच चल रहे ‘तेल मूल्य युद्ध’ को हल करने की बहुत कोशिश की गई. परन्तु आज जिस तरह से बाज़ार में गिरावट आयी है उससे लगता है कि बात कहीं न कहीं फँसी है.

ज़्यादातर मीडिया आउटलेट ने जो ख़बर छापी है उसके मुताबिक़ मांग लगभग नहीं के बराबर होने की वजह से डॉलर की क़ीमत 10 सेंट तक चली गई है. इस समय तेल की क़ीमत 1986 के स्तर से भी नीचे आ गई हैं. उल्लेखनीय है कि दुनिया के 185 से भी अधिक देश को’रोना वाय’रस की चपेट में आये हुए हैं. इसी के चलते कई देशों में लॉक डाउन है जिसके कारण व्यापारिक किर्यायें पूरी तरह से बंद हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *