कोरोना वाय’रस के कार’ण होली के सारे रंग फीके पड़ने वाले हैं। दुनिया भर में फैले इस ख़त’रनाक कोरोना वाय’रस के डर से लोग इस साल होली के रंगों का आनंद नहीं ले पाएंगे। कोरोना वाय’रस के कार’ण दुबई के बुर दुबई के हिंदू मंदिरों ने होली का उत्सव नहीं मनाने का फैसला किया है। और कोरोना वाय’रस से बचने के लिए एक दूसरे पर रंग लगाने से मना किया है।

शनिवा’र को शिव और कृ’ष्ण मंदिरों के प्रबंधकों ने ‘गल्फ न्यूज’ को बताया कि इस वर्ष होली न खेलने का आदेश दिया है और साथ ही श्रद्धालुओं और समुदाय के लोगों की सुरक्षा के लिए प्रार्थना के समय में कटौती और सैनिटाइजर देने जैसे कदम भी उठाए गए हैं। गुरु दरबार सिंधी मंदिर (शिव मंदिर) के महाप्रबंधक गोपाल कोकनी ने कहा कि “होली का उत्सव मनाने के कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया है। हम दुबई स्वास्थ्य प्राधिकर’ण के नियमों के अनुसार एहतियाती कदम उठा रहे हैं।”

Holi-Festival of colours

प्रतिदिन मंदिर खुलने के समय में कटौ’ती होने की बात कहते हुए उन्होंने कहा, “हमारे यहां आमतौर पर होली के एक दिन पहले यानी इस साल 9 मार्च को गाय के गोबर से बने उपले जलाने का रिवाज होता है। इसलिए हमने पहले ही भक्तों को समारोह रद्द होने की सूचना देने के लिए नोटिस दे दी है।” श्रीनाथजी मंदिर के अध्य’क्ष ललित करनी ने कहा कि नौ और दस मार्च को होली का उत्सव मनाने का कार्यक्रम सुरक्षा की दृष्टि से रद्द कर दिया गया है।

करनी ने कहा कि सोमवा’र को होलिका दहन और मंगलवार को रंग केवल भगवान कृ’ष्ण को अर्प’ण करने के लिए खेला जाएगा। श्रद्धालुओं को जारी एक सूचना में मंदिर प्रबंधन ने कहा कि “जनता के लिए होली और ढोल उत्सव नहीं मनाया जाएगा।” सूचना में कहा गया कि “हम सभी से अनुरोध करते हैं कि वे संक्रम’ण को फैलने से रोकने के वास्ते अनावश्यक एकत्रित न हों। मंदिर परिसर में रंग न फेंकें।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *