कोरोना संकट के बीच दुबई के अस्पताल में फिर पेश की गई इंसानियत की मिसाल, 42 साल के..

July 16, 2020 by No Comments

दुनियाभर के लगभग सभी देशों में कोरो’ना वा’य’रस का सं’क्र’मण बढ़ता ही जा रहा है। दूसरी तरफ इस मुश्कि’ल वक़्त में सभी अपनी-अपनी तरफ से गरीबों और ज़रूरतमन्दों की सहायता कर रहे हैं। कहीं पैसा और राशन बां’टकर गरीबों की मदद कर रहे हैं, तो कहीं लोग दूसरी जगह फंसे लोगों को उनके घर पहुंचकर सहायता की जा रही हैं। ऐसी ही एक खबर दुबई में देखने को मिली हैं। जहां दुबई सरकार ने भारत के एक व्यक्ति का 1.52 करोड़ का अस्प’ताल का बिल माफ किया है। साथ ही दस हज़ार रुपए देकर उसे भारत वापस भेजा है।

खबरों के मुताबिक, 23 अप्रैल को तेलंगाना के निवासी 42 वर्षीय ओदनला राजेश दुबई में कोरो’ना वा’य’रस से सं’क्र’मित पाए गए थे। जिसके बाद उन्हें दुबई के ही एक अस्प’ताल में भ’र्ती कराया गया था। जहां 80 दिनों तक उनका इ’लाज चला था। इलाज के बाद जब उन्हें छुट्टी मिली तो अस्प’ताल से उनका बिल एक करोड़ 52 लाख रुपए आया। गल्फ वर्कर्स प्रोटेक्शन सोसा’इटी के अध्यक्ष गुंदेली नरसिम्हा, जिन्होंने राजेश को अस्पताल में भर्ती कराया था, उन्होंने यह मसला दुबई में इंडियन कॉन्सुलेट के ऑफिसर के सामने रखा।

इसके बाद कॉन्सुलेट के एक श्री हरजीत सिंह नामक अधिकारी ने अस्पताल प्रशासन को चिट्ठी लिखकर व्यक्ति का बिल माफ करने का अनुरो’ध किया। अस्प’ताल ने इस चिट्ठी के जवाब में व्यक्ति का सारा बिल माफ कर दिया। इसके साथ ही मरीज़ और उसके साथी का मुफ्त टिकट भी कराया गया और दस हज़ार रुपए देकर भारत वापस भेजा गया। मंगलवा’र की रात को राजेश अपने घर तेलंगाना पहुंच गए और फिलहाल वह 14 दिनों के लिए होम क्वारनटीन में हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *