दोस्तों आज कल छोटी-बड़ी बीमारिया आम होती जा रही है ज़ायदा तर लोग बीमारियों में मुब्तला है, आप सभी को पता है की हमारे नबी करीम सल्ल० ने हर बीमारी का इलाज कही न कही बताया है, चौ’दह सौ साल पहले आए घ’र्म इ’स्ला’म दु’निया में सबसे बड़ा वा तेजी से फैल’ने वाला घर्म है। खु’दा ने प्या’रे न’बी स’ल्ल’ला’हो अ’लै’हि व’स’ल्ल’म के ज़रिए हमें हर वो छोटी सी बड़ी हर चीज का जान कारी दी और जिं’द’गी हम कैसे गुजर बसर करने इन सब बातो की जान कारी दी। हमारी सेहत से जुड़ी उन बातों के बारे में बताया जो बड़े बड़े साइ संदा भी नहीं जानते थे। आhज कल जिस तरह लोग में आगे बढने की होड़,


में अपनी सेहत को नुक सान पहुंचा रहे हैं। आज कल हर आ’दमी तरह तरह की बिमा रीयों में जकड़ा हुआ है उसे तरह तरह की परे शानी है। इसकी असल वजह हमारी खान पान और साथ ही सही तरीके से खाना नहीं खाया। जिसका खु’ला’सा बड़े बड़े डा’क्ट’रों ने अब किया है। लेकिन प्या’रे न’बी ने हमें ये बात बहुत पहले ही बताई थी। ‌अ’गर हम इ’स्ला’म वा इ’स्ला’म के सभी नि’य’मों का पालन,

सही तरीके से करें तो हमे कोई भी बि’मा’री या सेहत संबंधी बि’मा’री नहीं होगी। इसके अलावा हम स्व’स्थ भी रहेंगे। लेकिन हम इस पर ज्यादा घ्यान नहीं देते। खुदा के आ’खरी न’बी ने खड़े होकर पानी पीने से हमें मना किया। आज चौदह सौ साल बाद बड़े बड़े साइ संदा वही बात दोहरा रहे हैं। ‌साइ संदा ने अपनी रि’सर्च में पाया की बड़े बड़े बिमा रियों की जड़ खड़े होकर पानी पीना है। कैं’सर जोकि जा’न ले’वा बिमा’री है। वैज्ञा निकों ने अपनी खोज में पाया है,

कि खड़े होकर पानी पीने से कैं’सर होता है। सो’चिए हम कितनी बड़ी बि’मा’री को दावत दे रहे हैं। तरह तरह की दवा ईयां का रहे। ला’खों रुपए डा’क्ट’रों को दे रहे हैं। हमारे न’बी ने हमें जो बताया जैसे बताया उसे भुला बैठे हैं और तरह तरह की बिमा रीयों में मु’ब्तिला’ है। हम सभी को चाहिए कि खु’दा के ब’ताए हुए रास्ते पर चले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *