डोनाल्ड ट्रम्प को उनकी ही पार्टी के नेता दे रहे हैं नसीहत, एक ट्वीट में मानी हार…

November 15, 2020 by No Comments

वाशिंगटन डीसी: अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव में हार के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प कमज़ोर पड़ते दिख रहे हैं. ट्रम्प अपनी हार तक मानने को तैयार नहीं हैं लेकिन अमरीकी चुनाव अधिकारियों ने साफ़ कर दिया है कि चुनाव पूरी तरह निष्पक्ष थे और ट्रम्प के आरोप बेबुनियाद हैं. ट्रम्प आरोप लगा रहे हैं कि इस चुनाव में धाँधली हुई लेकिन वो अपने आरोपों के पक्ष में कोई सुबूत देने में नाकाम दिख रहे हैं. उनकी सभी बातें हवा में लग रही हैं. ट्रम्प के समर्थक भी अपने नेता की हार को पचा नहीं पा रहे हैं लेकिन उनकी पार्टी रिपब्लिकन्स के नेता ट्रम्प के रुख़ से नाराज़ हैं.

ख़बर है कि रिपब्लिकन पार्टी के नेताओं ने अब एक-एक करके ट्रम्प से असहमति होने की बात स्वीकारना शुरू किया है. कई वरिष्ठ रिपब्लिकन नेताओं का कहना है कि ट्रम्प को हार स्वीकार करना चाहिए और लोकतंत्र के मूल्यों पर सवाल उठाना बंद करना चाहिए. ट्रम्प ने एक ट्वीट में हालाँकि स्वीकार कर लिया है कि डेमोक्रेट उम्मीदवार जो बाइडेन चुनाव जीत गए हैं.

ट्रम्प अपनी कोई बात साबित करना चाहते थे उसी में उन्होंने ये ट्वीट कर दिया. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा,”वह (बाइडन) जीत गये क्योंकि चुनाव में धांधली हुई. किसी पर्यवेक्षक को अनुमति नहीं दी गयी. एक धुर वामपंथी निजी स्वामित्व वाली कंपनी डोमिनियन को मतों को सारिणीबद्ध करने का काम दिया गया जिसकी साख खराब है और घटिया उपकरणों से यह काम किया गया जो टेक्सास चुनाव (जिसमें मैं बहुत मतों से जीता) के लिए भी सही साबित नहीं हुए थे. फर्जी और मूक मीडिया.”

जानकार मानते हैं कि धीरे-धीरे अब ट्रम्प नतीजों को मानेंगे क्यूंकि उनके पास इसके अलावा कोई चारा नहीं है. आपको बता दें कि संयुक्त राज्य अमरीका में 50 राज्य हैं और इन राज्यों की आबादी के अनुसार इनको इलेक्टोरल वोट्स दिए गए हैं. जिस राज्य में जो उम्मीदवार जीतता है, उस राज्य के सारे इलेक्टोरल वोट्स उसी उम्मीदवार के हो जाते हैं. अमरीका में कुल 538 इलेक्टोरल वोट्स हैं, बहुमत के लिए 270 इलेक्टोरल वोट्स की ज़रूरत होती है. बाइडेन 306 इलेक्टोरल वोट्स हासिल कर चुके हैं जबकि ट्रम्प महज़ 232 पर ही अटक गए हैं.

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *