चाइना के डॉक्टरों ने जि’स्म से रू’ह निक’लते हुए रिकॉर्ड करने की कोशिश की तो जो हुआ वो देखें…

अस्सलाम ओ अलैकुम दोस्तों, हम सभी जानते हैं कि आज के दौर में विज्ञान ने कितनी तरक्की कर ली है. आज हम सभी इन्टरनेट का इस्तेमाल कर रहे हैं और पूरी दुनिया में अपनी बात बस कुछ ही मिनटों में पहुँचा सकते हैं.मेडिकल साइंस में भी काफ़ी तरक्की हुई है. इंसानी जिस्म में क्या कुछ छुपा है सब अब सबके सामने आने लगा है. साइंस नें ऐसी ऐसी मशीनें ईजाद कर दी हैं जो कि इंसान के जिस्म के अंदर जाकर धीरे धीरे सभी राज को खोलते ही जा रही हैं.

मेरे भाइयों इंसानी जिस्म का सबसे गहरा ताल्लुक अगर किसी चीज़ से है तो वो रूह लेकिन आज तक कोई भी साइंटिस्ट रूह और जिस्म के रिश्ते के बारे में कुछ बता नहीं सका है. इस बारे में अभी तक कोई नहीं जानता कि इंसानी जिस्म में रूह की क्या एहमीयत है और ये कहाँ रहती है. इंसान के जिस्म में रहती है या फिर आस पास. ऐसा हमने अक्सर सुना है कि म-रते वक्त इंसान के जिस्म से रूह निकल जाती है लेकिन यह किस तरह से निकलती है यह कोई नहीं जानता।

किन किन चीजों से मिलकर रूह बनती है ?क्या म-रने के बाद भी इंसान की रूह जिंदा रहती है? म-रने के बाद इंसान की रूह कहां जाती है ?इस तरह के सवालों ने इंसान को बहुत सालों से परेशान कर रखा है. अलग अलग जगहों पर और अलग-अलग धर्मों में रूह के बारे में लोग अलग अलग विचारधाराए रखते हैं लेकिन अधिकतर लोग इस बात पर यकीन रखते हैं कि रूह म-रते वक्त इंसान के जिस्म को छोड़कर चली जाती है एक जिंदा इंसान में रूह क्या है म-रने के बाद रूह कैसे निकलती है?

मेरे भाइयों खुदा के कलाम यानी कि कुरान शरीफ में इन बातों के जवाब तो मिल जाते हैं लेकिन मेडिकल साइंस ने अभी इतनी तरक्की नहीं की है कि रूह के हवाले से कोई जवाब दे सकें। लेकिन आज के वीडियो में हम आपको यह जरूर बताएंगे कि क्या रूह को देखा जा सकता है या रूह को पकड़ा जा सकता है. मेरे भाइयों आखिर रूह क्या है?

इसके बारे में दुनिया में कोई भी नहीं जानता है और ना ही साइंस नें इतनी तरक्की की है कि रूह को पकड़ सके। लेकिन आपके लिए एक खुशखबरी है कि चीनी साइंटिस्ट ने रूह को पकड़ने के लिए एक बहुत ही मजबूत और ताकतवर स्केनर बनाने का मंसूबा बना लिया है. खबरों की मानें तो रूह को स्कैन करने की मशीन एम आर आई मशीन की तरह ही होगी लेकिन वह इस मशीन से भी ज्यादा ताकतवर होगी। इसी इरादे से चीन में एक इमारत भी बनाई जानी शुरू हो गई है जिसमें इस मशीन को रखने का मंसूबा बनाया गया है.

जो मशीन बनने वाली है वह एम आर आई मशीन से कई गुना ज्यादा छोटे पार्टिकल्स को देखने की क्षमता वाली होगी। इस मशीन की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इससे इंसान की रूह को भी स्कैन किया जा सकेगा। चीनी साइंटिस्ट का कहना है कि इस मशीन के द्वारा हम पहली बार इंसानी दिमाग का पूरी तरह से जाएजा ले सकेंगे और इंसानी रूह को भी स्कैन कर सकेंगे और इस मशीन की मदद से हम इंसानी जिस्म में रूह की मौजूदगी को भी महसूस करेंगे.

About Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

View all posts by Arghwan Rabbhi →

Leave a Reply

Your email address will not be published.