डॉक्टर कफ़ील के बाद देवांगना को भी मिली ज़मानत, ‘पिंजड़ा तोड़’ की सदस्य..

September 1, 2020 by No Comments

इलाहाबाद: इलाहाबाद हाई कोर्ट ने मंगल के रोज़ एक अहम् निर्णय में डॉक्टर कफ़ील ख़ान की रिहाई का आदेश दिया. इस आदेश के साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार को कहा गया कि डॉक्टर कफ़ील पर लगा NSA हटाया जाए. अब ख़बर आ रही है कि CAA के ख़िलाफ़ आन्दोलन से जुड़ीं एक और प्रदर्शनकारी को ज़मानत मिल गई है.अब कोर्ट ने उनकी मां नुजहत परवीन की याचिका पर सुनवाई करते हुए डॉ कफील पर लगे सभी आरो’पों को गल’त बताया है और उन्हें जल्द से जल्द रिहा करने को कहा है।

इतना ही नहीं बल्कि कोर्ट ने कफील खा’न को जे’ल में डालने को भी बुरा ठहराया है। बता दें कि जनवरी 2020 को डॉ कफील खा’न को मुंबई से गिर’फ्तार किया गया था, जिसके बाद से ही वह मथुरा जे’ल में कै’द हैं। जेल में डालने के बाद सरकार ने उन पर एनएसए लगा दिया था और तीन बार एनएसए की अवधि बढ़ा दी थी।

ख़बर है कि दिल्ली हाई कोर्ट ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में साम्प्रदा’यिक हिंसा से जुड़े एक मामले में महिला संगठन ‘पिंजरा तोड़’ की देवांगना कलिता को भी जमानत दे दी है. जस्टिस सुरेश कुमार कैत ने कलिता को 25,000 रुपए के निजी मुचलके और इतनी ही राशि की जमानत पर रिहा करने का आदेश दिया. अदालत ने उन्हें निर्देश दिया है कि गवानों को किसी भी तरह से प्रभावित करने या सबूतों से छेड़छाड़ करने की कोशिश न करें. उन्हें मई में गिरफ़्तार किया गया था.

उन पर दंगा करने और ग़ैरक़ानूनी तरह से भीड़ जमा करने का आरोप लगा था. उन पर हत्या की कोशिश जैसे इलज़ाम भी लगाये गए थे. देवांगना हालाँकि इन सभी आरोपों को बेबुनियाद बताती हैं और कहती हैं कि सरकार आन्दोलन को बदनाम करने के लिए इस तरह की बातें कर रही है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *