दिल्ली झ’ड़प के बाद कपिल मिश्रा पर भाजपा करेगी का’र्यवाई?, भाजपा सांसद ने दिया ब’ड़ा बयान..

नई दिल्ली: CAA को लेकर हो रहे वि’रोध प्रदर्शन लम्बे समय से शां’तिपूर्ण ढंग से चले आ रहे हैं. परन्तु परसों के बाद से राजधानी दिल्ली के कुछ इलाक़ों में माहौल हिं’सक हो गया. CAA के समर्थक और विरो’धियों में हिंस’क झ’ड़पें हुईं. पुलिस की भूमिका पर भी संदेह किया जा रहा है. ख़बरों के मुताबिक़ 7 लोगों की जान इसमें चली गई है जिसमें एक पुलिस हेडकांस्टेबल भी शामिल है. ये हिं’सा कल बहुत ज़्यादा हो गई. जिन इलाक़ों में हिं’सा हुई उनके नाम हैं- भजनपुरा, गोकुलपुरी, चांदबाग, मौजपुर, जाफराबाद आद‍ि.

इस पूरे मामले में दिल्ली भाजपा के नेता कपिल मिश्रा पर हिं’सा भ’ड़काने का आरोप लग रहा है. कपिल मिश्रा के कई वि’डियो भी सोशल मी’डिया पर वायर’ल हुए हैं जिनमें वो भ’ड़काऊ बातें कर रहे हैं. कल सुबह जब हिं’सा ने भी’षण रूप ले लिया तो कपिल मिश्रा ने ट्वीट करके शांति बनाने की अपील भी की लेकिन इसके पहले उन्होंने जितने भी बयान दिए थे सभी की आ’लोचना हुई है. अब शांति के स’मर्थक लोग कह रहे हैं कि मिश्रा जैसे लोगों पर कार्यवाई होना बहुत ज़रूरी है.

कपिल मिश्रा के ख़ि’लाफ़ दो मामले भी दर्ज कर लिए गए हैं लेकिन अब जो ख़बर है वो ये है कि भाजपा भी मिश्रा से ख़ुश नहीं है. कपिल मिश्रा पर कड़ी कार्य’वाई की जा सकती है. भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने दिल्ली के हालात पर टिप्पणी की है. उन्होंने कहा,”कोई भी व्‍यक्‍त‍ि हो, चाहे वह कप‍िल म‍िश्रा हो या कोई और, भले ही वह क‍िसी भी पार्टी से संबंध रखता हो यद‍ि उसने भ’ड़काऊ भाषण द‍िया है तो उसके ख‍िलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए.”

उल्लेखनीय है कि कपिल मिश्रा ने धमकी देते हुए कहा,”अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे के बाद वापस जाने तक हम यहां से शांतिपूर्वक जा रहे हैं, लेकिन अगर तीन दिन में रास्ते खाली नहीं हुए, तो हम फिर सड़कों पर उतरेंगे. इसके बाद हम दिल्ली पुलिस की नहीं सुनेंगे.” चुनाव के दौरान उन्होंने एक रैली की थी जिसमें उन्होंने “गोली मारो..” जैसे आपत्तिजनक नारे लगवाए थे. आपको बता दें कि दिल्ली हिं’सा की वजह से मेट्रो ट्रेन की पिंक लाइन के पाँच स्टेशन बंद हैं.


दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) ने ट्वीट किया, ‘‘जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जौहरी एनक्लेव और शिव विहार मेट्रो स्टेशन बंद हैं. ट्रेनें वेलकम मेट्रो स्टेशन से आगे नहीं जाएंगी.” सीएए के विरोधियों और समर्थकों के बीच हिं’सक झ’ड़पों के चलते जाफराबाद और मौजपुर-बाबरपुर मेट्रो स्टेशन रविवार को बंद किए थे लेकिन बाकी तीनों स्टेशन सोमवार को बंद किए गए.

About Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

View all posts by Arghwan Rabbhi →

Leave a Reply

Your email address will not be published.