कोरोना रोकने के लिए सऊदी अरब सरकार का नया आदेश, इन 20 देशों से..

February 3, 2021 by No Comments

सऊदी अरब ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए एक अहम् फ़ैसला किया है. सऊदी अरब की सरकार ने 20 देशों से हवाई यातायात को फिलहाल बंद कर दिया है। अब केवल वही लोग सऊदी अरब में प्रवेश कर सकेंगे जो वहां के नागरिक हैं, डिप्लोमेट हैं और डॉक्टर या उनके परिजन हैं। ये आदेश 3 फरवरी से लागू कर दिया गया है।

जिन देशों से आने वाले लोगों पर सऊदी अरब ने बैन लगाया है उनमें संयुक्त अरब अमीरात, जर्मनी, अमेरिका, ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका, फ्रांस, मिस्र, लेबनान, अर्जेंटीना, इंडोनेशिया, आयरलैंड, इटली, ब्राजील, पुर्तगाल, तुर्की, स्वीडन, स्विटजरलैंड, जापान और भारत और भारत का भी नाम शामिल है। सऊदी अरब की स्टेट न्यूज एजेंसी के मुताबिक सऊदी अरब ने 21 दिसंबर 2020 को विदेश से आने और जाने वाली विमान सेवाओं को रोक दिया था।

28 दिसंबर को इसको फिर बढ़ा दिया गया था। ये सब कुछ कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के कई देशों में पाए जाने के बाद किया गया था। इसके बाद 4 जनवरी को अपनी सीमा खोली थी। गौरतलब है कि सऊदी अरब ने जिन देशों के यात्रियों पर अपने यहां आने अस्थायी तौर पर रोक लगाई उनमें अधिकतर वही देश शामिल हैं जहां पर कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के मामले सामने आए हैं।

आपको बता दें कि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री इस स्ट्रेन को पहले सामने आए प्रकारों से अधिक घातक बता चुके हैं। यही वजह है कि पूरी दुनिया इस नए खतरे को देखते हुए सभी एहतियाती उपाय कर रही हैं। आपको यहां पर ये भी बता दें कि सऊदी अरब द्वारा जिन देशों के यात्रियों पर बैन लगाया गया है उनमें से कुछ को भारत कोविड-19 वैक्सीन की सप्लाई कर रहा है।

इतना ही नहीं सऊदी अरब का भी नाम उन देशों में शामिल है जहां पर भारत अपनी वैक्सीन को उपलब्ध करवा रहा है। आपको बता दें कि सऊदी अरब में कोरोना वायरस के अब तक 368,639 मामले सामने आए हैं जिनमें से 6,383 मरीजों की मौत हो चुकी है जबकि 360,110 मरीज ठीक भी हुए हैं। वहीं पाकिस्तान की बात करें तो वहां पर अब तक कोरोना संक्रमण के मरीजों की संख्या 547,648 पहुंच गई है और 11,746 मरीजों की मौत हो चुकी है जबकि 495,863 ठीक भी हुए हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *