देश विदेश में इन दिनों कोरोना वाय’रस ने अपना आतं’क म’चाया हुआ है जिसके चलते लोग अपने- अपने घरों में बं’द है। यही नहीं सभी देशों ने अपनी सी’माएँ बं’द कर दी हैं जिसके कारण कोई भी इन दिनों कहीं भी यात्रा नहीं कर सकता। ऐसे में जो जहाँ हैं वहीं रह गए हैं, दुबई में भी कई भारतीय फँ’से हैं जिनकी मदद के लिए भारतीय दू’तावास काम कर रहा है। ख़बरें हैं कि जल्द ही दुबई में पर्य’टकों का स्वागत किया जाएगा। जी हाँ, दुबई में लॉ’क डा’उन में छू’ट की ख़’बरें साम’ने आने लगी है। वैसे भी UAE के राजस्व का बहुत बड़ा हि’स्सा पर्यटन पर नि’र्भर है।

ख़ब’रों की माने तो दुबई को पर्य’टकों के लिए खो’लने की यो’जना बनने लगी है। जुलाई तक दुबई में लोगों का आना- जाना शुरू हो सकता है। इस बारे में ब’ताते हुए दुबई के पर्यटन और वाणिज्य विभाग के महानिदेशक हे’लाल अल मै’रिज ने कहा कि “पर्य’टन के लिए दुबई के दरवाजे को खो’लने की तै’यारी चल रही है। इसके लिए यह जरूरी है कि वै’श्विक स्त’र पर किस तरह के हाला’त हैं। अगर स्थि’ति अनुकू’ल रही तो जुलाई में दुबई की सी’माओं को खो’ला जा सकता है। हालांकि, पूरी तरह से खो’लने में सितंबर तक का समय लग सकता है।”

आपको बता दें कि हाल ही में दुबई के दो ऐसे जिलों से लॉ’क डा’उन ह’टा लिया गया है जो बड़ी व्यावसायिक आबा’दी वाले ज़िले हैं। इन दोनों जिलों में दो दिनों तक लगाता’र कोरोना का कोई भी के’स न आने के बाद ये नि’र्णय लिया गया। संयुक्त अरब अमी’रात अपने तेल के ख़’ज़ानों के अलावा पर्य’टन और व्यापार के ज़’रिए ही अपनी अर्थव्य’वस्था को सुदृ’ढ़ रखता है। बीते दिनों कोरोना के चलते कच्चे तेल की क़ी’मतों में भी भा’री गि’रावट देखने मिली,ये गि’रावट इतनी थी कि कच्चे तेल की क़ी’मत पानी की बोतल से भी क’म हो गयी थी। दुबई में कोरोना संक्र’मित व्यक्ति 10 हज़ार से ज़्यादा रहे जिनमें अब क’मी आ रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *