अबू धाबी: पूरी दुनिया इस समय कोरोना वाय’रस के क़हर से जूझ रही है. कोरोना वा’यरस से लड़ने के लिए सरकारें भी लगी हैं तो आम लोग भी पूरी कोशिश में हैं कि इस वायर’स को ख़’त्म किया जाए. कई जगह पर सरकारों ने लॉक डाउन किया है, लॉक डाउन के बारे में कहा जा रहा है कि इसकी मदद से वाय’रस को फैलने से रोका जा सकता है. भारत समेत दुनिया के कई बड़े देशों में लॉक डाउन है.

कोरोना से यूरोप, एशिया, उत्तरी अमरीका, ऑस्ट्रेलिया तक प्रभावित हैं लेकिन अफ्रीका में अभी ये वायर’स उस तरह से नहीं फैला है. अफ़्रीका के अधिकतर देश ग़रीब हैं, ऐसे में जानकार मानते हैं कि अगर यहाँ बीमा’री फैलती है तो ये बहुत भयानक हो सकता है. इसी वजह से इसकी रोकथाम के लिए क़दम उठाये जा रहे हैं. इसी बात को समझते हुए UAE सूडान की मदद के लिए आगे आया है.

गृह युद्ध को झेल चूका सूडान अभी भी ग़रीबी से जूझ रहा है. सूडान में कोरोना वा’यरस के अब तक 162 संक्रमित लोग मिले हैं, इनमें से 13 लोगों की जान चली गई है जबकि 8 पूरी तरह ठीक हो गए हैं. सूडान की मदद के लिए UAE ने टेस्टिंग किट और मास्क जैसी चीज़ें भेजी हैं. UAE ने सूडान के अलावा अन्य देशों की मदद भी की है. UAE ने 25 देशों को 270 टन मदद भेजी है.

उल्लेखनीय है कि UAE ने किसी और देश की तुलना में ज़बरदस्त टेस्टिंग हुई है और साथ ही UAE में इलाज की बेहतर व्यवस्थाएँ हैं. डीप नॉलेज ग्रुप जिसका हेड-क्वार्टर UK में, ने एक रिपोर्ट में बताया है कि UAE COVID-19 का इलाज करने वाले देशों में सबसे अच्छी तरह से इलाज कर रहा है. UAE की लगातार वैश्विक पटल पर सराहना हो रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *