मुंबई: महाराष्ट्र में इन दिनों सि’यासी बवंडर मचा हुआ है। ऐसा माना जा रहा है कि महाविकास अघाड़ी सरकार में सब कुछ ठीक नही चल रहा है। दिन प्रतिदिन कांग्रेस व शिवसेना में तकरार बढ़ती जा रही है। अभी कुछ दिन पहले कांग्रेस की तरफ से ये बयान आया था कि 2024 में होने वाले चुनावों में वो अपने दम पर चुनाव लड़ेगी।

इस बात पर प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा था कि पूर्व मुख्यमंत्री फड़णवीस भी ऐसा ही कहते थे। क्या वो दुबारा जीतकर आये? एक दूसरे पर बयानबाज़ी का ये सिलसिला यहीं नही रुका। अभी एक दिन पहले उद्धव ठाकरे ने एक बार फिर से कांग्रेस को नि’शाने पर लेते हुए कहा कि खुद के दम पर चुनाव ल’ड़ने की बात करोगे तो लोग जूते से मरेंगे।

अब इस वि’वाद में शिवसेना नेता संजय राउत भी उतर गए हैं। उन्होंने कहा कि जिनको अकेले चुनाव लड़ना है वो लड़ें।ऐसे में अंदाज़ा लगाया जा रहा है कि इन दिनों कांग्रेस, शिवसेना, एनसीपी गठबंधन में सब कुछ ठीक नही चल रहा है। कुछ लोग यह संभावना भी व्यक्त कर रहे हैं कि आने वाले दिनों में ये तकरार और भी तेज़ होगी और जिसका खामियाजा महाराष्ट्र सरकार को उठाना पड़ सकता है।

वहीं मुख्य वि’पक्षी दल भाजपा कहीं न कहीं इस लड़ाई का सियासी फायदा उठाने के लिए तैयार खड़ी दिखाई दे रही है। आपको बताते चलें कि इस विवाद की शुरुआत उस समय हुई जब मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे अचानक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने पहुंच गए। और उसी के बाद उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ भी कर दी। तभी से कांग्रेस बिफर गयी और दोनों सहयोगी दलों में शीत युद्ध शुरू हो गया।

जानकर बताते हैं कि यह मुलाकात आगामी महीनों में अपने सियासी रंग दिखा सकती है। कुछ लोगों का तो यहाँ तक भी कहना है कि ऐसा कहना अतिश्योक्ति नही होगा कि बीजेपी, शिवसेना आगामी दिनों में गठबंधन करके सरकार बना लें।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.