इस राज्य में कांग्रेस को लगा झ’टका, विधायक ने इस्ती’फ़ा देकर कही ये बात..

भारत राजनीति

नई दिल्ली: लम्बे समय से इस तरह की ख़बरें आ रही हैं जिसमें ये बताया जा रहा है कि भाजपा कांग्रेस-जेडीएस की कर्णाटक सरकार गि’राने की कोशिश कर रही है. इन ख़बरों पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा नेता कहते हैं कि वो किसी तरह की कोशिश नहीं कर रहे हैं लेकिन जेडीएस-कांग्रेस सरकार ख़ुद ही गि’र जाएगी. वहीँ कांग्रेस और जेडीएस के नेता बार-बार ये दावा करते हैं की उनकी सरकार मज़बूत है. इस बीच अब इस बारे में बड़ी ख़बर आ रही है.

कर्णाटक में गठबंधन सरकार को एक बड़ा झ’टका लगने की ख़बर है. विजयनगर से कांग्रेस पार्टी के विधायक आनंद सिंह ने विधानसभा से इस्ती’फ़ा दे दिया है. उहोने कहा,”हाँ, मैंने इ’स्तीफा दे दिया है. मैंने आज सुबह इस्ती’फा दिया.” जब उनसे कहा गया कि विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने इस्तीफ़े की पुष्टि नहीं की है तो उन्होंने कहा कि अगर ऐसी बात है तो वो फिर से इस्ती’फ़ा देंगे. विधानसभा अध्यक्ष ने किसी तरह का इ’स्तीफ़ा मिलने से इनकार किया है.

कुमार ने कहा, “मुझे कोई इस्ती’फा नहीं मिला है. किसी ने इ’स्तीफा देने के लिए मुझसे संपर्क नहीं किया है.” हालाँकि विधायक ने ये नहीं बताया कि इस बात का कारण क्या है. सिंह ने बताया कि वह राज्यपाल वजुभाई वाला से मुलाकात करेंगे और उनसे मुलाकात के बाद इस्तीफे का कारण बताएंगे. जद(से) नेता एवं मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी एक मंदिर की नींव रखने के कार्यक्रम के लिए अमेरिका में हैं. वहीँ मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने ट्वीट किया,”स्वामीजी के तत्वावधान में न्यूजर्सी में कालभैरवेश्वर मंदिर की नींव रखी जा रही है. मैं यहां से पूरे घटनाक्रम पर नजर रख रहा हूं. भाजपा सरकार को अस्थिर करने का दिवा-स्वप्न देख रही है.”

सिंह ने जेएसडब्ल्यू स्टील को 3,667 एकड़ जमीन की बिक्री के खिलाफ हाल में बेल्लारी में एक संवाददाता सम्मेलन किया था. उन्होंने कहा था कि जिले के हितों की रक्षा करना पार्टी से अधिक महत्वपूर्ण है और उन्होंने इस्ती’फा देने का संकेत दिया था. अटकलें लगाई जा रही हैं कि वह भाजपा में शामिल होंगे. कांग्रेस में पिछले साल जब असंतोष चरम पर था तब सिंह एकांत में चले गए थे, लेकिन वह बाद में सामने आए थे और उन्होंने पार्टी के प्रति अपनी वफादारी दिखाई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *