सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ज्योतिरादित्य सिंधिया का उनके गढ़ में ऐसे रखा पूरा ख्याल…

July 2, 2021 by No Comments

भोपाल: मध्यप्रदेश में विधानसभा के बजट सत्र के दौरान कैबिनेट की बैठक में निर्णय लिया गया था कि 1 से 31 मई के बीच तबादले हो सकेंगे। लेकिन कोरोना की वि’कट स्थिति के कारण यह प्रक्रिया रोक दी गई थी। वहीं अब इस लंबित ट्रांसफर प्रक्रिया को लागू कर दिया गया है। मध्य प्रदेश में 1 जुलाई से 31 जुलाई तक कर्मचारियों और अधिकारियों के ट्रांसफर किये जायेंगे। खबरों के मुताबिक इस ट्रांसफर नीति में ज्योतिरादित्य सिंधिया की पसंद का सीएम शिवराज सिंह चौहान ने पूरा ध्यान रखा है।

सिंधिया के गढ़ माने जाने क्षेत्रों में उनके ही वफादारों की प्रभारी के तौर पर तैनाती की गई है। जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट को ग्वालियर में ट्रांसफर के लिए प्रभारी नियुक्त किया गया है। मंत्रियों के अनुमोदन के बाद ही कर्मचारियों के तबादले होंगे। मुख्यमंत्री शिवराज ने मंत्रियों को प्रभार बांट दिए हैं। जिसमें उन्होंने ज्योतिरादित्य सिंधिया के गढ़ में उनके वफादारों की तैनाती का पूरा ख्याल रखा है। परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत को भिंड और दमोह, उर्जा मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर को अशोकनगर और गुना, सुरेश धाकड़ को दतिया, तुलसी सिलावट को ग्वालियर और हरदा की जिम्मेदारी दी गई है।

इन सभी क्षेत्रों में ज्योतिरादित्य सिंधिया का वर्चस्व माना जाता है। ग्वालियर-चंबल से आने वाले दूसरे मंत्रियों को मालवा इलाके में प्रभार दिया गया है। खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया को देवास और आगर मालवा का प्रभार दिया गया है। ग्वालियर के विकास को लेकर ज्योतिरादित्य सिंधिया अधिक रुचि लेते हैं। इसलिए प्रशासनिक अदला बदली भी उनके संकेतो पर होती है। सिंधिया के वफादार और करीबी तुलसी सिलावट को ग्वालियर का प्रभार सौंपा गया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *