चुनाव से ठीक पहले ओवैसी ने क्षेत्रीय पार्टी से किया गठबंधन, हिस्से में आयीं 4 सीटें..

March 8, 2021 by No Comments

नई दिल्ली: चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में चुनावी गहमागहमी तेज़ है. ये चुनाव सभी पार्टियाँ बहुत शिद्दत से लड़ रही हैं. इसी में एक नाम असद उद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM का भी आता है. AIMIM पश्चिम बंगाल और तमिल नाडू पर अपना फ़ोकस करे हुए है. तमिल नाडू से एक बड़ी ख़बर आ रही है कि यहाँ ओवैसी की पार्टी ने एक क्षेत्रीय पार्टी से गठबंधन किया है.

ख़बर है कि विधानसभा चुनाव के लिए असदुद्दीन ओवैसी के नेतृत्व वाली पार्टी एआईएमआईएम और टीटीवी दिनाकरण की एमएमके में गठबंधन हो गया है। सोमवार को इसका ऐलान किया गया है। गठबंधन में एआईएमआईएम को तीन सीटें दी गई हैं। शशिकला के भतीजे टीटीवी दिनाकरण की एएमएमके के समर्थन से एआईएमआईएम वाणियमबडी, कृष्णगिरि और संकरपुरम विधानसभा सीट पर चुनाव लड़ेगी।

टीटीवी दिनाकरन पूर्व सीएम जयललिता की करीबी रहीं शशिकला के भतीजे हैं और पूर्व केंद्रीय मंत्री हैं। वो तमिलनाडु के काफी चर्चित राजनीतिक चेहरे रहे हैं और एक समय एआईएडीएमके के बड़े नेता थे। जयललिता की मौ’त के बाद वो अन्नाद्रमुक से अलग हो गए और अम्मा मक्कल मुनेत्र कझगम (एएमएमके) नाम से अपना अलग दल बना लिया। जयललिता की मौ’त के बाद खाली हुई राधा कृष्णन नगर सीट पर हुए उपचुनाव में दिनाकरन ने सत्ताधारी एआईएडीएमके के उम्मीदवार को हराकर दम दिखाया था।

वहीं असदुद्दीन ओवैसी की एआईएमआईएम की बात की जाए तो ये पार्टी मुख्य तौर पर मुस्लिम वोटों पर निर्भर करती है। ओवैसी हैदराबाद से सांसद हैं और लंबे समय तक उनका प्रभाव हैदराबाद और आसपास ही माना जाता था। हालांकि बीते कुछ समय में ओवैसी और उनकी पार्टी ने कई राज्यों में अपना प्रभाव दिखाया है। अब तमिलनाडु में भी ओवैसी पहुंचे हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *