चिराग पासवान को अपने पाले में करने के लिए तेजस्वी यादव का ये दाँव..

November 29, 2020 by No Comments

पटना. बिहार में सियासत दिलचस्प मोड़ लेने की स्थिति में है. लोकजनशक्ति पार्टी नेता रामविलास पासवान के निधन से ख़ाली हुई राज्यसभा सीट पर भाजपा ने सुशील मोदी को उम्मीदवार बनाया लेकिन राजद भाजपा को मुश्किल में डालने के लिए एक बड़ा क़दम उठाने की तैयारी में है. ख़बरों की मानें तो राजद राम विलास पासवान की धर्म-पत्नी को राज्यसभा उम्मीदवार बनाने की तैयारी में है. लम्बे समय से राजद लोजपा को अपने पाले में करने की कोशिश में है और ये उसके लिए अच्छा मौक़ा है.

लोजपा ने इस बार का विधानसभा चुनाव अकेले लड़ा था और उसे महज़ एक ही सीट मिली थी. महागठबंधन एक-एक करके NDA को कमज़ोर करने की कोशिश में है. भाजपा को उसी के खेल में हराने की कोशिश राजद कर रही है और अगर ऐसा होता है तो भाजपा को ये बड़ा झटका लगेगा. राज्यसभा चुनाव में अगर राजद हार भी जाए तो उसे कोई भारी नुक़सान नहीं है जबकि जीतने पर उसका बड़ा फ़ायदा है.

वैसे रामविलास पासवान के निधन के बाद भाजपा में कुछ ऐसे नेता थे जो उनकी पत्नी को राज्यसभा भेजने को ठीक मान रहे थे लेकिन जदयू चिराग पासवान से बेहद नाराज़ है. वहीं भाजपा को भी ये एक अच्छा मौक़ा दिखा लोजपा को साइडलाइन करने का और उसने सुशील मोदी को राज्यसभा चुनाव में उम्मीदवार बना दिया. सूत्रों की मानें तो इस को लेकर राजद द्वारा अब चिराग की मां के नाम पर समर्थन किए जाने की बात सामने आ रही है लेकिन लोजपा की तरफ से अभी इसको लेकर कोई बयान सामने नहीं आया है.

राज्यसभा की इस एक सीट पर चुनाव आयोग तैयारी कर चुका है और इस पर 14 दिसंबर को उपचुनाव होगा. गौरतलब है कि रामविलास पासवान भाजपा और जेडीयू के सहयोग से 2019 में निर्विरोध चुने गए थे. इस सीट का कार्यकाल 2 अप्रैल 2024 तक है. बिहार से ऊपरी सदन के सदस्य पासवान का इसी 8 अक्टूबर को निधन हो गया.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *