भाजपा मुख्यमंत्री का अजी’ब बयान,’जब-जब मैं CM बना हूँ तब-तब प्राकृतिक…’

भारत राजनीति

बेंगलुरु: कर्णाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदयुरप्पा ने प्रदेश में बा’ढ़ की स्थिति के बाद एक ऐसा बयान दिया है जिसके बाद उनकी आलोचना हो सकती है. उन्होंने एक बयान में दावा किया कि जब भी वो मुख्यमंत्री बनते हैं तब भी प्राकृतिक आ’पदाएँ आती हैं और ये उनके लिए ‘अग्नि-परिक्षा’ बन जाता है. उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि 4-5 दिन में केंद्र से राहत-निधि मिलेगी.

येदियुरप्पा ने कहा, ‘‘जब भी मैं मुख्यमंत्री बना तो मेरे लिए अग्नि परीक्षा रही। 108-110 वर्षों में रिकॉर्ड बारिश से बड़े पैमाने पर बा’ढ़ आयी और नुकसान हुआ। हमने विस्थापित लोगों के मकानों के निर्माण में मदद की।’’ चित्रदुर्ग में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि कुछ जिलों में सूखे की स्थिति है और सरकार को इससे भी निपटना है। उन्होंने कहा, ‘‘हम सूखा और बा ढ़ दोनों स्थिति का सामना कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा कि मुझे चार से पांच दिनों में केंद्र से निधि मिलने की उम्मीद है। हम राज्य सरकार के कुछ कार्यक्रमों को रद्द करके बा’ढ़ से प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने पर खास ध्यान दे रहे हैं।’’ गौरतलब है कि जब 2008 में भी येदियुरप्पा मुख्यमंत्री थे तो उत्तर कर्नाटक के कई हिस्से बा’ढ़ की चपेट में आये थे। पिछले महीने बा’ढ़ के कारण 22 जिलों के 103 तालुक प्रभावित हुए जिसमें 80 से अधिक लोग मारे गए।

करीब सात लाख लोगों को सुरक्षित इलाकों में भेजा गया और हजारों मकान क्षतिग्रस्त हो गये। कर्नाटक ने केंद्र सरकार को बा’ढ़ से 35,160.81 करोड़ रुपये के नुकसान का आकलन भेजा है और वह राहत का इंतजार कर रहा है। विपक्षी दलों ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और अंतर मंत्रालयी केंद्रीय दल के राज्य के प्रभावित इलाकों का दौरा करने के बावजूद राहत में ‘‘देरी’’ के लिए राज्य तथा केंद्र दोनों में भाजपा सरकारों पर निशाना साधा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *