नई दिल्ली: महाराष्ट्र के सियासी नाटक में अब नया चैप्टर शुरू होने को है. ये खेल अभी कुछ और दिन चलेगा क्यूँकि अभी तक किसी भी दल के पास बहुमत नज़र नहीं आ रहा है और राज्यपाल ने भाजपा को सरकार बनाने का न्योता दिया है. इस बीच ख़बर है कि देवेन्द्र फडनवीस राज्यपाल से मिलने पहुँचे हैं. इस बीच एक बड़ा महाराष्ट्र भाजपा के अध्यक्ष का आ रहा है. महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि हम राज्य में सरकार नहीं बनाएँगे.

पाटिल ने आगे कहा कि मैंडेट हमें (भाजपा-शिवसेना) को दिया गया था लेकिन शिवसेना ने इसको अपमानित कर दिया हैं. उन्होंने कहा कि अगर शिवसेना कांग्रेस-एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाना चाहती है तो बना ले..हमारी बेस्ट विशेस उनके साथ हैं. इसके पहले शिवसेना के नेता संजय राउत ने रविवार को कहा कि यदि महाराष्ट्र में कोई और सरकार गठित नहीं कर पाता है तो उनकी पार्टी अपनी अगली रणनीतिक की घोषणा करेगी. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक संजय राउत ने भी यह भी कहा कि कांग्रेस राज्य (महाराष्ट्र) की दुश्मन नहीं है.

शिवसेना की आगे की योजना के बारे में पूछे जाने पर राउत ने कहा, ‘राज्यपाल के पहले कदम पर तस्वीर साफ हो जाने दीजिए. यदि कोई और सरकार गठित नहीं कर पाता है तो शिवसेना अपनी रणनीति घोषित करेगी.’ उन्होंने बताया कि शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे पार्टी विधायकों से रविवार अपराह्न साढ़े 12 बजे मुलाकात करेंगे.आपको बता दें कि NCP नेता शरद पवार से मुला’क़ात के बाद शिवसेना ने ये ऐला’न किया था कि वो महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में शिवसेना के व्यक्ति को बिठाकर बाबा साहेब के सपने को ज़रूर पूरा करेंगे जिसके लिए उन्हें भाजपा की मदद की ज़रूरत नहीं है।

वहीं बीती शाम NCP के नेता नवाब मलिक ने कहा था कि अगर भाजपा बहुम’त साबि’त नहीं कर पाती है तो वो सदन में उनके ख़िला’फ़ वो’ट देंगे और भाजपा सर’कार के गि’रने पर वैक’ल्पिक सर’कार बनाएँगे। जहाँ कल तक इस बात को शिवसेना और NCP ग’ठबं’धन की सम्भा’वनाओं की तरह देखा जा रहा था वहीं आज इस मामले में एक नया मो’ड़ आ गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *