बर्ड फ़्लू से मर रहे हैं पक्षी, क्या इंसानों में भी फैल सकता है ये फ़्लू?

January 12, 2021 by No Comments

देश में बर्ड फ्लू का ख़तरा मंडरा रहा है. केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, गुजरात और उत्तर प्रदेश में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो गई है.राजधानी दिल्ली में भी सोमवार को बर्ड फ्लू की पुष्टि हो गई है। जिन राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है वहां बड़ी संख्या में पक्षी मृत पाए गए।
एक तरफ देश कोरोना संक्रमण से जूझ रहा है और अब ऐसे में सभी के मन मे ये सवाल आ रहा है कि बर्ड फ्लू से इंसानों को कितना खतरा है और क्या यह पक्षियों से इंसानों में भी फैल सकता है?

आपको बता दें कि बर्ड फ्लू केरल, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, गुजरात और उत्तर प्रदेश में फैला है। भोपाल के नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ हाई सिक्यॉरिटी एनिमल डिजीज (NIHSAD) में नमूनों को जांच के लिए भेजा जाता है। वैज्ञानिकों ने बताया है कि फिलहाल देश में फैल रहा बर्ड फ्लू का H1 स्ट्रेन पक्षियों से इंसानों में जा सकता है लेकिन इसकी आशंका काफी कम है। NIHSAD के सीनियर साइंटिस्ट सी. तोष कहते हैं, ‘मौजूदा वायरस जूनेटिक है जिसका मतलब है कि यह जानवरों से इंसानों में प्रवेश कर सकता है।’

बर्ड फ्लू के सबसे ज्यादा मामलों वाले देश में भारत भी शामिल है क्योंकि यहां दूसरी जगहों से आने वाले प्रवासी पक्षियों की संख्या अधिक है। दूसरी जगहों से उड़कर आने वाले जंगली पक्षियों के कारण अकसर बर्ड फ्लू फैलता है जो अपने मल के जरिए वायरस फैलाते हैं। आपको बता दें, पहली बार इंसानों में H5N1 के संक्रण की खबर साल 1997 में हॉन्ग कॉन्ग से आई थी।

पोल्ट्री फार्म में काम करने वाले एक शख्स इसकी चपेट में आए थे। साल 1918 में स्पैनिश फ्लू से दुनिया भर में लाखों लोगों की मौत हुई थी। तो वहीं भारत में साल 2004 में बर्ड फ्लू का पहला मामला आने के बाद अब तक देश में 24 बार बर्ड फ्लू फैला है। आखिरी बार साल 2016 में दिल्ली, केरल, पंजाब और मध्य प्रदेश के पोल्ट्री में बर्ड फ्लू के मामले सामने आए थे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *