प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

पटना: बिहार की सियासत में बयानों की गरमाहट कम नहीं हो रही है. कभी एनडीए की ओर से भविष्यवाणी की जा रही है कि कांग्रेस व राजद में तोड़फोड़ होनेवाला है तो कभी राजद की ओर से ही ऐसा दावा किया जाता है. इसी बीच अब कांग्रेस ने इसी ‘तोड़फोड़ की पॉलिटिक्स’ पर बड़ा हमला किया है. यह हमला उन्होंने पूरे एनडीए पर किया है. गुरुवार को कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता प्रेमचंद मिश्रा ने कहा है कि एनडीए में कई दिग्गज नेता घुटन महसूस कर रहे हैं. इसे लेकर एनडीए में बड़ी टूट हो सकती है.

प्रेमचन्द मिश्रा ने कहा है कि प्रदेश में एनडीए एकजुट नहीं है. बहुत जल्द ही राजग बिखर जाएगा. साथ ही उपेन्द्र कुशवाहा और नीतीश कुमार के रिश्तों के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि सूबे के दोनों बड़े नेताओं के बीच खटास और बढ़ गई है. क्योंकि हाल ही में नीतीश ने कुशवाहा को लेकर नीच शब्द का प्रयोग किया था. मिश्रा की माने तो सीएम नीतीश के व्यवहार से नाराज कुशवाहा अब अमित शाह से मिलेंगे. अंत में मिश्रा ने कहा कि नीतीश और कुशवाहा के बीच जुबानी जंग शुरू हो गई है. ऐसे में बिहार में एनडीए को टूटने से कोई नहीं रोक सकता है.

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि लोकसभा चुनाव 2019 में देश की जनता नरेंद्र मोदी सरकार को सबक सिखाएगी. इनसे एनडीए का कोई भी घटक दल बचा नहीं है. वे यहीं पर नहीं रुके. प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि भाजपा के यशवंत सिन्हा, शत्रुघ्न सिन्हा और कीर्ति आजाद जैसे नेता अपनी ही पार्टी में घुटन महसूस कर रहे हैं. इतना ही नहीं, उन्होंने बीजेपी सांसद भोला सिंह, छेदी पासवान के साथ रालोसपा के उपेंद्र कुशवाहा और हम पार्टी के नेता जीतनराम मांझी के पार्टी नेतृत्व से नाराज होने की बात कही. आगामी लोकसभा चुनाव से पहले एनडीए में बड़ी टूट से इनकार नहीं किया जा सकता है.

गौरतलब है कि अभी हाल ही में एनडीए में सीटों को लेकर समझौता हो गया है। समझौते के अनुसार, बीजेपी और जेडीयू बराबर सीटों पर चुनाव लड़ेंगी। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने संयुक्त रूप से इसकी घोषणा की। सूत्रों की मानें तो दोनों पार्टियां 17-17 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी, जबकि एलजेपी 4 और आरएलएसपी 2 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here