बिहार में जीतन राम माँझी की ओर से आया चौं’काने वाला बयान,’हमसे और भी लोग गठबंधन करना चाहते हैं’

November 13, 2020 by No Comments

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव में जनता ने जो जनादेश दिया है वो कुछ ऐसा है कि कोई भी पक्के तौर से नहीं कह सकता कि छोटे दल पाला बदलेंगे या नहीं. सबसे ज़्यादा निगाहें NDA के छोटे घटक दलों पर हैं. NDA में VIP और ‘हम’ जैसी पार्टियों पर नज़र है कि वो पाला बदलेंगी या नहीं. VIP के मुकेश सहनी पहले से माँग कर रहे थे कि उन्हें महागठबंधन डिप्टी CM का पद देने पर राज़ी हो और जब चुनाव से पहले ये घोषणा नहीं की गई तो उन्होंने NDA का दामन थाम लिया.

‘हम’ के नेता जीतन राम मांझी जोकि पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के क़रीबी दोस्त हैं, उनके बारे में ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि वो जल्द ही महागठबंधन में आ सकते हैं. लालू की ओर से माँझी और मुकेश सहनी दोनों को पैग़ाम भेजा गया है और राजद ने कुछ नेताओं को उनसे संपर्क बनाये रखने के लिए कहा है. सूत्रों की मानें तो ‘हम’ और VIP दोनों ने ही राजद को ‘ना’ में जवाब नहीं दिया है. ऐसा माना जा रहा है कि ये दोनों दल NDA के ऑफर का इंतज़ार कर रहे हैं.

NDA में किसको क्या मिले इसकी मुख्य ज़िम्मेदारी भाजपा की है. भाजपा की मुश्किल ये है कि वो जदयू नेता नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री बना रही है तो ख़ुद तो डिप्टी CM बनेगी ही. ऐसे में VIP और ‘हम’ के नेताओं को क्या मिलेगा. वहीं महागठबंधन में कांग्रेस या लेफ़्ट, इनकी कोई विशेष माँगें तो हैं नहीं, ऐसे में राजद ‘हम’ और VIP दोनों को कुछ बड़ा दे सकती है. इन सभी बातों के बीच ‘हम’ प्रवक्ता दानिश रिज़वान ने एक दावा कर दिया है

उन्होंने कहा है कि बिहार में अभी सियासी ड्रामा खत्म नहीं हुआ है. हमारी पार्टी के पास दूसरे दल के लोग फोन कर रहे हैं और गठबंधन करने की बात कह रहे हैं. उन्होंने कहा कि कोई भी पार्टी हमें तोड़ने की कोशिश क्यों न करे लेकिन हम किसी भी क़ीमत पर एनडीए का साथ नहीं छोड़ेंगे. रिज़वान का ये बयान NDA पर दबाव डालने वाला नज़र आ रहा है.

वो हालाँकि कह रहे हैं कि पार्टी प्रवक्ता होने के नाते मैं ये बात स्पष्ट कर देना चाहता हूं हम किसी भी कीमत पर एनडीए का साथ छोड़ने को तैयार नहीं हैं. हमारे नेता जीतन राम मांझी ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी के नेतृत्व में चुनाव में थी, हम उनके साथ थें और जबतक प्राण है तबतक उनके साथ ही रहेंगें.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *