बिहार महागठबंधन में पड़ी दरार? ‘हम चाहते हैं सब साथ हों लेकिन मजबूर किया तो…’

September 30, 2020 by No Comments

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Vidhansabha election) के लिए तारीख़ों की घोषणा होने के बाद से ही सियासी गलियारों में हलचल है. जैसे जैसे चुनाव नज़दीक आ रहे हैं वैसे वैसे राज्य के दोनों बड़े गठबन्धनों में विवाद उपज रहे हैं. ख़बर है कि बिहार महागठबंधन में मतभेद नज़र आ रहे हैं. बुधवार के रोज़ जिस तरह कांग्रेस और राजद के नेताओं के बीच बयानबाज़ी हुई उसने गठबंधन में दरारें पैदा कर दी हैं. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शक्ति सिंह गोहिल ने साफ कहा, ‘महागठबंधन में अगर कुछ ऊपर नीचे होता है तो हम भी अपने अन्य दल के साथ इस चुनाव में उतरने के लिए पूरे दम खम के साथ तैयार हैं.’

बुधवार को दिल्ली में कांग्रेस की हुई मीटिंग के बाद मदन मोहन झा (Madan Mohan Jha) ने भी बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि हम लोगों की चर्चा है कि जो लोग चुनाव लड़ने को इच्छुक हैं, उनके बारे में पार्टी आलाकमान को बताया जाए. जो लोग ल’ड़ने के दावेदार हैं उनका आकलन करने के लिए कि आखिर कौन सही है और कौन पार्टी के समीकरण के लिहाज से फिट नहीं बैठेगा.

गोहिल ने कहा कि जिस तरह से सीट शेयरिंग के मुद्दे पर कुछ राजद नेता बयानबाज़ी कर रहे हैं वो बहुत शॉकिंग है. उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि सभी एक तरह की सोच वाले साथ आयें.हालाँकि अगर कोई ज़रूरत पड़ती है तो दूसरा विकल्प चुनेंगे. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि राजद और कांग्रेस की गठबंधन हो भी जाती है तो जिन सीटों पर हम चुनाव नहीं लड़ रहे हैं उन सीटों की भी जानकारी हम अपने स्क्रीनिंग कमिटी के सदस्य को देंगे. कौन सा कार्यकर्ता कहां से ल’ड़ना चाहता है और किसे कहां का से उम्मीदवार बनाया जा सकता है, इस सबकी जानकारी पार्टी आलाकमान को दी गई है. माना जा रहा है कि महागठबंधन के लिए जुमेरात का दिन अहम् है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *