भाजपा ने काटा चिराग पासवान का पत्ता, लोजपा की अंतिम उम्मीद ध्व’स्त..

November 27, 2020 by No Comments

पटना/ नई दिल्ली: भाजपा ने अपने क़रीबी सहयोगी माने जाने वाले लोजपा को बड़ा झटका दिया है. भाजपा ने लोकसभा चुनाव से पहले ये आश्वासन दिया था कि राज्यसभा की एक सीट उसे दी जाएगी लेकिन ऐसा कुछ होने नहीं जा रहा है. बिहार चुनाव में लोजपा ने जदयू के ख़िलाफ़ जमकर अभियान चलाया लेकिन साथ ही भाजपा को एक शब्द नहीं कहा. भाजपा की मजबूरी ये है कि उसे जदयू को साथ लेकर ही चलना पड़ेगा क्यूँकि जदयू कमज़ोर तो हो गई है लेकिन ख़त्म नहीं हुई है.

कुछ जानकार मानते हैं कि भाजपा ने लोजपा को जदयू का वोट काटने की ज़िम्मेदारी दी थी जिसको उसने बखूबी निभाया लेकिन ग़लती ये हो गई कि उसकी अपनी सीट बस एक आयी. भाजपा ने सुशील कुमार मोदी को राज्यसभा का उम्मीदवार बनाकर साबित कर दिया है कि लोजपा ने जो किया वो अब कोई फ़ायदा देने वाला नहीं है.

सुशील मोदी पहले बिहार के डिप्टी CM थे लेकिन इस बार उन्हें बिहार सरकार में जगह नहीं दी गई थी. राज्यसभा की यह वो सीट है, जो रामविलास पासवान के निधन के बाद ख़ाली हुई थी. भाजपा के इस फ़ैसले से लोजपा को बड़ा झटका लगा है. ऐसी संभावना है कि लोजपा NDA से अपना समर्थन वापिस ले सकती है. लोजपा के 6 लोकसभा सांसद हैं. चिराग़ पासवान के नेतृत्व में लोजपा ने इस बार चुनाव लड़ा और वो महज़ एक सीट जीत सकी. अब अगर लोजपा को अपना अस्तित्व बचाना है तो कुछ ऐसा करना होगा जिससे वो फिर से जनता के मन तक पहुँचे.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *