भाजपा को उसी के खेल में मात देंगे लालू यादव?, सुशील मोदी के बयान से मचा ह’ड़कंप..

November 24, 2020 by No Comments

पटना: बिहार में अभी NDA सरकार को कुछ ही दिन हुए हैं और अभी से ही NDA के लिए सरकार चलाना मुश्किल हो रहा है. पिछले कुछ सालों में भाजपा ने कई राज्यों में विपक्षी विधायकों को अपने पाले में कर लिया और सरकार बना ली लेकिन बिहार में मामला एकदम उलटा होता दिख रहा है. भाजपा यहाँ अपने विधायकों को बचाने में लगी है. वो पूरी कोशिश कर रही है कि NDA के विधायक महागठबंधन ख़ेमे में न चले जाएँ.

भाजपा के वरिष्ठ नेता और बिहार के पूर्व डिप्टी CM सुशील कुमार मोदी ने ख़ुद इस बात को मान लिया है कि महागठबंधन उनके लोगों को अपने पाले में करने की पूरी कोशिश कर रहा है. उन्होंने इस बात की जानकारी एक ट्वीट के ज़रिए की. उन्होंने लिखा कि लालू एनडीए विधायकों को फोन कर उन्हें मंत्री पद का प्रलोभन दे रहे हैं. NDA के पास कुल 125 सीटें हैं जबकि महागठबंधन के पास 110 सीटें हैं.

महागठबंधन को पूरी उम्मीद है कि अगर उनकी सरकार बनने की स्थिति नज़र आयी तो उन्हें AIMIM के पाँच विधायकों का समर्थन मिल जाएगा. सुशील मोदी ने अपने ट्वीट में एक नम्बर भी सार्वजानिक किया और दावा किया कि ये लालू प्रसाद यादव का नम्बर है.उन्होंने कहा कि जानकारी मिलने के बाद मैंने लालू प्रसाद यादव को 8596XXXXX पर कॉल किया तो लालू यादव ने सीधे उठाया, जिसपर मैंने कहा कि जेल से ये गंदी हरकतें मत करें, आप सफल नहीं होंगे।

हालाँकि ये नम्बर किसी इरफ़ान नाम के व्यक्ति का है. इरफ़ान लालू यादव के एक सेवक का नाम भी है और वो राजद में पदाधिकारी भी हैं. ये नम्बर लेकिन लालू का ही है या नहीं, इसको अभी पुष्ट तौर पर नहीं कहा जा सकता. हालाँकि ये तो साफ़ है कि भाजपा को लग रहा है कि उसकी सरकार पर किसी तरह का संकट ज़रूर है. भाजपा नहीं चाहती कि उसके साथ कुछ महाराष्ट्र जैसा मामला हो जाए. विश्लेषक मानते हैं कि जोड़-तोड़ के खेल में भाजपा कांग्रेस को तो मात दे जाती है लेकिन जहाँ मुक़ाबला क्षेत्रीय ताक़तों से होता है वहां भाजपा को हार ही नसीब होती है. इसका एक उदाहरण महाराष्ट्र है जहाँ शिवसेना और एनसीपी दोनों ने मिलकर भाजपा के मंसूबों को पस्त कर दिया.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *