बंगाल में विधानसभा चुनाव हारने के बाद से बीजेपी में अपने ही नेताओं का विरोध धीरे धीरे तेज़ हो रहा है। अब विरोध के लपेटे में बंगाल भाजपा प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय आ गए हैं। कल कोलकाता में बीजेपी दफ़्तर के बाहर कैलाश विजयवर्गीय के विरोध में ‘गो बैक ममता सेटिंग मास्टर’ के पोस्टर लगाए गए थे। जिन्हें बाद में हटवा दिया गया। फिलहाल ये पता नही चला है कि ये पोस्टर किसके कहने पर लगवाए गए थे।

गुरुवार को बीजेपी के केंद्रीय नेता शिव प्रकाश की अगुवाई में पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक हुई। जिसमे कैलाश विजवर्गीय को अभी आना था लेकिन वो बैठक से नदारद दिखे। सूत्रों के अनुसार बैठक में कई नेताओं ने विजवर्गीय के ख़िलाफ़ अपना गुस्सा जाहिर किया है। इसी बैठक के बाद ही देर रात विजयवर्गीय के खिलाफ़ पोस्टर लगाए गए। इसके पहले बीजेपी के वरिष्ठ नेता तथागत रॉय ने भी कैलाश विजयवर्गीय पर मुकुल रॉय को लेकर निशाना साधा था।

गौरतलब हो कि बंगाल चुनावो में बीजेपी ने जीत के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाया था। प्रधनमंत्री से लेकर गृहमंत्री अमित शाह ने पूरे प्रदेश में जगह जगह रैलियां की लेकिन इसका कोई फायदा चुनाव में दिखाई नही दिया। परिणामों में ममता बैनर्जी ने बाजी मार ली। इसी के बाद से ही टीएमसीपी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए नेताओ की घर वापसी की लाइन लग गयी है। जिससे बीजेपी की काफी किरकिरी भी हो रही है। उल्लेखनीय है कि भाजपा की विधानसभा चुनाव में करारी हार हुई है वहीं ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस ने भारी बहुमत से सरकार बनाई है.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.