जल’से को बं’द कराने ताम-झाम से पहुँची पुलिस, लेकिन आज़म ने कही ऐसी बात कि भी’ड़….पुलिस के छूट गए पसीने

June 14, 2019 by No Comments

रामपुर: समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आज़म ख़ान के जलसे में हंगा’मा होने की ख़बर है.असल में बताया जा रहा है कि आज़म ख़ान का एक जल’सा पुलिस रोकने की कोशिश कर रही थी लेकिन तभी पुलिस के ख़िला’फ़ समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाज़ी कर दी. आज़म ने किले के मैदान में शुक्रिया अदा करने को लेकर जलसा रखा था. ये उनकी चुनावी जीत के बाद का जलसा था.

उन्होंने लोकसभा चुनाव में रामपुर सीट से भाजपा प्रत्याशी जया प्रदा को भारी मतों से हराया था. हंगा’मे की बात करें तो आजम खां ने पुलिस प्रशासन और प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर निशाना साधा।कहा कि गुजरात के बाद रामपुर को भी खून से नहलाने की भी कोशिश हो रही है,इलेक्शन के समय तो ज़ुल्म की इंतहा पार हो गयी.महिलाओं के पेट में डंडे मारे गए।पुलिस वालों ने मार्केट बंद कराए और सामान लूट लिया।

आज़म खान ने कहाकि प्रशासन ने 77 हजार रेड कार्ड जारी कर लोगों को दहशतजदा किया गया.आजम खां भाषण दे रहे थे कि इसी दौरान सीओ सिटी तिवारी वहां पहुंच गए।उन्होंने कहा कि रात दस बजे तक की परमीशन थी और 10 बजकर 12 मिनट हो गए.उन्होंने जलसा बंद करने को कहाइसपर आजम खां ने कहा कि हमें अपनी बात पूरी करने दो.हमारे खिलाफ पहले से ही बहुत से मुकदमे हैं एक और सही.

इसी दौरान इंकलाब जिदाबाद के नारे के साथ पुलिस के खिलाफ नारेबाजी होने लगी।भीड़ सीओ की तरफ बढ़ने लगी,लेकिन आजम खां और उनके बेटे विधायक अब्दुल्ला ने रोक दिया।बाद में जलसा भी खत्म हो गया। सीओ सिटी का कहना है कि हमारे पास रिकार्डिंग है।जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक मीटिग में शामिल होने लखनऊ गए हैं,उनके वापस आने पर ही कार्रवाई होगी।

दूसरी ओर आजम खां ने मीडिया से कहा कि हमने 11 बजे तक की परमीशन मांगी थी,लेकिन सिटी मजिस्ट्रेट ने नौ बजे तक की दी.इसपर हमने कह दिया कि ऐसा है तो हमें परमीशन नहीं चाहिए।इसके 10 बजे तक की परमीशन दी गई.नौ बजकर 57 मिनट हुए थे कि सीओ ने जाकर जलसा बंद करने का फरमान सुना दिया।हम सांसद हैं और अपनी बात कह रहे थे,कोई गलत काम नहीं कर रहे थे,लेकिन सीओ ने गलत व्यवहार किया।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *