अशोक गहलोत की चतुराई में फँसी भाजपा, सचिन पायलट की कांग्रेस में वापसी…

July 13, 2020 by No Comments

जयपुर: राजस्थान में कांग्रेस पार्टी की सरकार पर छाए संकट के बादल अब लगभग छंट गए हैं. इसके अलावा एक और ख़बर ये है कि सचिन पायलट से कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की बातचीत हो गई है. कांग्रेस के सूत्र बताते हैं कि सचिन पायलट को मना लिया गया है. इस दावे के पीछे एक कारण ये भी है कि सचिन पायलट के जो होर्डिंग कार्यालय से हटा दिए गए थे, फिर लग गए हैं. इस पूरी हलचल के बीच कांग्रेस ने देर रात ढाई बजे एक प्रेस वार्ता की.

इस प्रेस वार्ता में कांग्रेस ने दावा किया कि उनके पास 109 विधायकों का समर्थन है और कुछ अन्य विधायक भी सुबह तक अपना समर्थन पत्र देंगे. माना जा रहा है कि सचिन के ख़ेमे के कुछ और लोगों को मंत्री बनाया जा सकता है और सचिन को पार्टी में वही एहमियत मिलती रहेगी जो थी. उल्लेखनीय है कि सचिन उप-मुख्यमंत्री हैं. हालाँकि जानकार मानते हैं कि सचिन ने बग़ावत का जो ये चैप्टर किया उससे उनकी साख काफ़ी कमज़ोर हुई है.

अब वो आगे कांग्रेस में प्रैक्टिकल तौर पर कितने प्रभावी रहते हैं ये आने वाला समय बतायेगा. ये ज़रूर है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने आपको कामयाब राजनीतिज्ञ साबित किया है. पूरे मामले पर कांग्रेस विधायक दानिश अबरार ने कहा कि कोई नम्बर गेम बचा नहीं है..राज्य सरकार के पास बहुमत था,अभी भी है. उन्होंने कहा कि हमारे पास ज़रूरी नम्बर हैं.

उन्होंने दावा किया कि हमारे पास 109 विधायक हैं. दूसरी ओर सचिन पायलट के ख़ेमे से ख़बर है कि वो भाजपा नहीं ज्वाइन कर रहे हैं. एक और ख़बर जो इस सिलसिले में आ रही है वो है कि भारतीय ट्राइबल पार्टी ने अपने दो विधायकों के लिए व्हिप जारी किया है कि अगर विधानसभा में फ्लोर टेस्ट होता है तो वो न तो कांग्रेस के पक्ष में मतदान करें और न ही भाजपा के पक्ष में.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *