अरब देश में हुए धमा’कों को इज़रायली नेता ने बताया ‘गॉड का गिफ्ट’, न’फ़रती बयानों के लिए..

August 6, 2020 by No Comments

तेल-अवीव: इज़राइली नेताओं के बारे में कहा जाता है कि ये बिना सोचे कुछ भी बोल देते हैं. इज़राइली सरकार के कुछ नेताओं ने बड़े ताम-झाम से ये घोषणा कर दी थी कि उन्होंने कोरो’ना वै’कसीन बना ली है लेकिन ह’ल्ला जब विश्व स्तर पर हो गया तो पूरी तरह से चु’प्पी साध ली गई. अब इज़राइल के एक और नेता की ओर से वि’वादित बयान आया है. बेरुत में हुए ध’माकों को लेकर जहाँ पूरी दुनिया के लोग अफ़सो’स कर रहे हैं लेकिन इजराइल के कुछ नेताओं के लिए ये भी ख़ुशी का अवसर है.

पूर्व में इज़राइली नेसेट के सदस्य रहे मोशे फ़ीगलिन ने बेरुत ध’माकों पर ख़ुशी ज़ाहिर की. नफ़रत से लबरेज़ बयान में फ़ीगलिन ने कहा कि आज ख़ुशी का दिन है..और सच्चे मन से गॉड को थैंक यू. उन्होंने बेरुत धमा’कों को गॉड का गिफ्ट बताया. मोशे ने दावा किया कि यहूदी त्यौहार के समय ही ये ध’माका हुआ है.

उल्लेखनीय है कि मंगल के रोज़ लेबनान की राजधानी बेरुत में दो बड़े ध’माके हुए. इन ध’माकों में सौ से अधिक लोगों की जान गई है और हज़ारों की संख्या में लोग घा’यल हुए हैं. बेरुत पोर्ट पूरी तरह से त’बाह हो गया है. तुर्की, फ्रांस और सायप्रस जैसे देश मदद के लिए आगे आये हैं लेकिन इज़राइल के क’ट्टर नेताओं के लिए ये घड़ी भी नफ़’रत का बाज़ार गर्म करने की लग रही है. बेरुत में हुए ध’माके इतनी तेज़ थे कि 240 किलोमीटर दूर सायप्रस तक इसको महसूस किया गया.

लेबनान के प्रधानमंत्री हसन दिआब ने बताया कि ध’माके के पीछे का’रण 2700 टन अमोनियम नाइट्रेट थी जोकि एक कॉमन इंडस्ट्रियल फ़रटीलाइज़र है और साथ ही मा’इनिंग विस्फो’टक की तरह भी इस्तेमाल होता है. प्रधानमंत्री ने इस ध’माके में ह’ताहत लोगों के लिए राष्ट्रीय शो’क का एलान किया है. लेबनान की ऑथोरिटीज़ इस ध’माके को एक्सी’डेंट ही मान रही है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *