बिहार चुनाव में अपने ही बिछाए जाल में फँ’स गई है भाजपा? अब कर रही है कोर्ट जाने की बात..

October 7, 2020 by No Comments

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) के लिए तैयारियाँ ज़ोर-शोर से हो रही है. हर रोज़ ख़बर आ रही है कि किसे टिकट मिला और किसे नहीं. बिहार में भाजपा की सबसे बड़ी मुसीबत हो गई है कि वो लोजपा को कैसे हैंडल करे. NDA में लोजपा शामिल है लेकिन बिहार में वो जदयू-भाजपा के साथ मिलकर चुनाव नहीं लड़ रही. साथ ही वो उन भाजपा नेताओं को भी टिकट दे रही है जिन्हें भाजपा नहीं दे पा रही. इतना ही नहीं लोजपा भाजपा की तारीफ़ भी कर रही है लेकिन वो जदयू को कोस रही है.

राजनीतिक विश्लेषक मानते हैं कि बिहार में अपने आपको मज़बूत करने के लिए भाजपा ने जदयू को कमज़ोर करने के लिए एक जाल बिछाया है. भाजपा लोजपा के ज़रिए जदयू को कमज़ोर करना चाहती है लेकिन चुनाव से पहले जहाँ इसको चाणक्य नीति की तरह होशियारी बोला जा रहा था, चुनाव की तारीख़ नज़दीक आते आते ये मामला NDA में confusion का बन गया है.

भाजपा अब लोजपा से इतनी तंग आ चुकी है कि उसे कहना पड़ रहा है कि मोदी का पोस्टर लगाने का किसी और का अधिकार ही नहीं है. पार्टी ने बुधवार को दो टूक कहा कि एनडीए गठबंधन के बाहर कोई भी दल अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पोस्टर का इस्तेमाल प्रचार के लिए करता है, तो उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने सवालों के जवाब में यह प्रतिक्रिया दी.

मंगलवार को बीजेपी और जदयू की प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान भी उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने जायसवाल का उल्लेख करते हुए कहा था कि कोई भी दल प्रधानमंत्री मोदी या पार्टी के किसी अन्य स्टार प्रचारक के पोस्टर का इस्तेमाल करता पाया जाएगा तो पार्टी चुनाव आयोग का दरवाज़ा खटखटाएगी, जो इस मामले में कार्रवाई कर सकता है. जदयू की ओर से आ रहे दबाव के बाद भाजपा नेताओं को कहना पड़ रहा है कि वो लोजपा से बिलकुल अलग हैं.

महाराष्ट्र से बिहार चुनाव की कमान संभालने आये वरिष्ठ नेता देवेन्द्र फडनवीस ने साफ़ किया है कि अगर उनकी पार्टी का कोई नेता लोजपा से चुनाव लड़ता है तो उसे दल से निष्कासित माना जाएगा. पार्टी विरोधी गतिविधियों को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. गौरतलब है कि भाजपा की वरिष्ठ नेत्री ऊषा विद्यार्थी बुधवार को लोजपा में शामिल हो गईं. लोजपा नेता चिराग पासवान ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *