अम्बानी परिवार को जान से मा’रने की ध’मकी के बाद बड़ी गिरफ़्तारी

March 14, 2021 by No Comments

मुम्बई: देश के सबसे बड़े उद्योगपति मुकेश अंबानी के मुंबई स्थित घर ‘एंटीलिया’ के बाहर 25 फरवरी को वि’स्फोटक से भरी एक लावारिस स्कॉर्पियों कर मिली थी. जिसके बाद पु’लिस ने इस मामले में एक्शन लेते हुए एफआईआर दर्ज की थी. मुंबई पुलिस ने सूत्रों के हवाले से यह भी पता लगा था कि स्कॉर्पियों में एक चिट्ठी मिली है जिसमें पूरे अबांनी परिवार को जान से मा’रने की ध’मकी दी गई है.

सामने आई जानकारी के मुताबिक स्कॉर्पियों में मिले बैग पर मुंबई इंडियंस लिखा था. इसके साथ ही ध’मकी देते हुए कहा गया कि ”तुम और तुम्हारा पूरा परिवार संभल जाना. तुम्हें उड़ाने का पूरा इंतजाम हो गया है. वहीं अब इस मामले में मुकेश अंबानी के मुंबई स्थित घर ‘एंटीलिया’ के बाहर 25 फरवरी को वि’स्फोटक से लदी कार के मालिक मनसुख हिरेन की मौ’त के मामले में पुराने जांच अधिकारी सचिन वाजे को एनआईए ने शनिवार देर रात गि’रफ्तार कर लिया.

हिरेन का श’व 4 मार्च को मिला था. एनआईए ने इससे पहले सचिन वाजे से कई घंटों तक पूछताछ की थी. और फिर शनिवार रात उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. सचिन वाजे से पूछताछ के बीच देर शाम को मुंबई एटीएस की टीम भी एनआईए के कोलाबा कार्यालय पहुंची थी. मनसुख हिरेन की मौ’त के मामले में सचिन वाजे सवालों के घे’रे में हैं. मनसुख हिरेन की पत्नी ने भी इस मामले में मुंबई के पुलिस अधिकारियों पर सवाल उठाए थे.

उन्होंने आ’रोप लगाया था कि उनके पति को प्र’ताड़ित किया जा रहा था. तो वहीं वाजे ने एक दिन पहले अग्रिम ज़’मानत के लिए अदालत में अर्जी दी थी. लेकिन ठाणे की अदालत ने कहा था कि यह ह’त्या का सं’वेदनशील मामला है. सचिव वाजे शक के दायरे में हैं. इसमें हिरासत में पूछताछ जरूरी हो सकती है. लिहाजा अग्रिम जमानत अभी नहीं दी जा सकती.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *