अमित शाह ने पहली बार दिल्ली हा’र पर दिया बयान,’नफ़’रत भरे ब’यान की वजह..’

भारत राजनीति

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा को करारी शि’कस्त मिली है. आम आदमी पार्टी और भाजपा के बीच हुए सीधे मुक़ाबले में आम आदमी पार्टी ने एक बार फिर अप्रत्या’शित जी’त हासिल की है. भाजपा ने इस चुनाव में जिस तरह का कैम्पेन किया वो भी विवादों में आया है. भाजपा के कई नेताओं ने ऐसे बयान दिए जिसके बाद ये माना गया कि भाजपा चुनाव को साम्प्रदा’यिक करके जी’तना चाहती है. हालाँकि भाजपा का हर दांव फ़ेल हुए और भाजपा महज़ 8 सीटें ही जी’त पायी जबकि ‘आप’ ने 70 में से 62 सीटें जी’त लीं.

भाजपा की हा’र के बाद अमित शाह के नेतृत्व पर भी सवाल उठ रहे हैं. अमित शाह ने जिस तरह से प्रचार किया उससे ये भी चर्चा हुई कि ये अरविन्द केजरीवाल वेर्सस अमित शाह है. अब अमित शाह ने अपनी पार्टी की हा’र पर बयान दिया है. उन्होंने माना है कि “गोली मारो” और “भारत-पाकिस्तान मैच” जैसे बयान नहीं देने चाहिए थे. उन्होंने कहा कि पार्टी इस तरह के बयानों से खुद को अलग रखती है.

समाचार एजेंसी PTI ने अमित शाह के हवाले से कहा, हो सकता है पार्टी नेताओं द्वारा दिए गए नफ’रत भरे बयानों के कारण भाजपा को चुनावों में नुकसान उठाना पड़ा हो.हालाँकि उन्होंने “शाहीन बाग़ को करंट लगने” जैसे बयान का बचाव भी किया. उन्होंने कहा कि दिल्ली चुनाव को लेकर मेरा आकलन गलत साबित हुआ. आपको बता दें कि अमित शाह ने दावा किया था कि उनकी पार्टी 48 सीटें जी’तेगी. भाजपा नेता अनुराग ठाकुर ने ‘गोली मारो’ जैसे बयान दिए थे जबकि कपिल मिश्रा ने चुनाव को ‘भारत-पाकिस्तान मैच’ बता दिया था.

आपको बता दें कि 70 विधानसभा सीटों वाली दिल्ली में हाल ही में चुनाव संपन्न हुए. 8 फरवरी को हुए चुनाव का 11 फरवरी को रिजल्ट आ गया. आम आदमी पार्टी ने 62 सीटें जी’ती हैं जबकि भाजपा महज़ 8 ही सीटें जी’त सकी. कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली. इस चुनाव में कांग्रेस ने बहुत मेहनत नहीं की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *