नई दिल्ली.पतंजलि के मालिक और व्यापारी रामदेव बड़बोले अंदाज़ में बहुत कुछ बोल जाते हैं लेकिन इस बार उनको इन विवादित बयानों को लेकर इस बार बड़ी क़ीमत चुकानी पड़ सकती है. रामदेव का व्यापार लम्बे अरसे से उनके बाबा होने के नाम पर फला-फूला है. हालाँकि उनके व्यापार के बढ़ने से शायद ही किसी को परेशानी हो लेकिन पिछले दिनों उन्होंने डॉक्टर्स पर एक ऐसा बयान दे दिया जिसके बाद उनको वैज्ञानिक कम्युनिटी की तरफ़ से काफ़ी विरोध झेलने को मिल रहा है.

रामदेव ने एलोपैथी चिकित्सा पर भी कई ग़लत टिप्पणियाँ कीं, विवाद बढ़ने पर रामदेव को स्वास्थ मंत्री ने ख़त लिखा और उनसे कहा कि अपने बयानों को वापिस लें. रामदेव ने स्वास्थ मंत्री की बात मानते हुए अपने बयानों पर खेद जताया लेकिन इसके बाद उन्होंने फिर से विवादित बयान देना चालु कर दिया. रामदेव को अपनी इन हरकतों की वजह से काफ़ी विरोध झेलना पड़ा तो अब वो इधर-उधर से कुछ ढूँढ रहे हैं कि उन्हें कोई समर्थक मिल जाए.


ढूंढते-ढूंढते उनको जैसे आमिर ख़ान के कार्यक्रम के पुराने विडियो से कोई उम्मीद जग गई. रामदेव ने स्टार टीवी के प्रोग्राम ‘सत्यमेव जयते’ के एक विडियो को शेयर करते हुए कैप्शन दिया,”इन मेडिकल मा’फियाओं में हिम्मत है तो आमिर खान के खि’लाफ मोर्चा खोलें.” इस विडियो में आमिर खान डॉक्टर समित शर्मा से बात कर रहे हैं. इस दौरान डॉ. समित शर्मा जेनेरिक दवाओं और ब्रांडेड दवाओं के बीच कीमत के अंतर के बारे में बता रहे हैं.

डॉ. समित शर्मा इसमें कहते हैं कि दवाओं की असल कीमत बहुत ही कम होती है. लेकिन हम जो दवाएं बाजार से खरीदकर लाते हैं, उनके लिए हम अधिकतम 50 फीसदी अधिक दाम देते हैं. टीवी शो सत्य’मेव जयते के इस शो में दवाओं की कीमतों पर बात हो रही है. आपको बता दें कि इस पूरी बातचीत में कहीं भी डॉक्टर सचेत शर्मा या आमिर ख़ान अंग्रेज़ी दवाओं पर सवाल नहीं उठा रहे हैं. दूसरी ओर रामदेव के ख़िलाफ़ डॉक्टरों का आन्दोलन तेज़ होता नज़र आ रहा है. डॉक्टरों ने कहा है कि वे 1 जून को रामदेव के ख़िलाफ़ देशभर में काला दिवस मनाया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *