सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जिस दिन वो मुख्यमंत्री बनेंगे, वो बाबा के घर से चिलम ढूँढ निकालेंगे. उन्होंने कहा कि बाबा जी कहते हैं कि अगर संविधान नहीं होता तो हम भैंस चरा रहे होते..हम कहते हैं कि संविधान नहीं होता तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ घन्टा बजा रहे होते.

उन्होंने कहा कि केवल चौकीदार नहीं हटाना है, ठोकीदार भी हटाना है. अखिलेश ने उत्तर प्रदेश की क़ानून व्यवस्था को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की आलोचना की.अखिलेश ने कहा कि 100 नंबर वाली व्यवस्था को इन्होने ख़राब कर दिया. उन्होंने कहा कि हमारे शिक्षामित्र बहुत नारे लगा रहे हैं आज…इनने भी पिछली बार चाय पी ली थी..भाई क्यूँ चाय पी..ग़लती हो गई न..इनका सम्मान बढ़ाया हमने, हम इन शिक्षा मित्रों को भरोसा दिलाना चाहते हैं कि हमारी सरकार आएगी तो इनका सम्मान वापिस करेंगे.

उन्होंने कहा कि समाजवादी लोग आने वाले समय में इनका भी सम्मान बढ़ाने का काम करेंगे. आंगनवाड़ी, आशावर्कर और चौकीदारों की भी नहीं सुन रहे ये चौकीदार लोग… बताओ कहाँ सुन रहे हैं ये चौकीदारों की..इसलिए हम चौकीदारों से कहेंगे कि आप असली चौकीदार हो, नक़ली चौकीदारों को ठीक कर दो. उन्होंने कहा कि भाजपा से जानवर भी नाराज़ हैं.. हमें नहीं पता कुशीनगर-पडरौना में कितने सांड घूम रहे हैं..अभी हरदोई में आपने अखबार में पढ़ा होगा..

उन्होंने कहा,”एक सांड दुखी होके नाराज़ होक, मुख्यमंत्री जी से शिकायत करने पहुँच गया… मुख्यमंत्री जी ने नहीं सुनी फिर दूसरे सांड कन्नौज आ गए..हेलीपैड पर आ गए….फिर उन्होंने एम्बुलेंस लगाई नहीं रोक पाए सांड को, फायर ब्रिगेड लगाई नहीं रोक पाए सांड को..फिर धीरे से कान में बताया कि ग़लत हेलीपैड पर आ गए हो तब वो शांत हुए.”कुशीनगर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश ने ये बातें कहीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here