40 मु’स्लिम लड़कों ने रचा इतिहास, UP-PCS में मिली कामयाबी और मु’स्लिम लड़कियों को…

लखनऊ: उत्तर प्रदेश पीसीएस-जे परीक्षा के नतीजे आ गाये हैं. इसके अंतिम परिणाम की घोषणा के बाद पास होने वाले अभ्यर्थियों ने ख़ासी ख़ुशी मनाई. घर के परिवार के लोगों ने भी अपने बच्चों की कामयाबी को सोशल मीडिया जैसे प्लेट्फ़ॉर्म पर साझा किया.आपको बता दें कि इसकी सूचि में पहला स्थान आकांक्षा तिवारी ने हासिल किया है.

प्रांतीय सिविल सेवा-न्यायपालिका जिसे PCS-J परीक्षा 2018 भी कहा जाता है, का अंतिम परिणाम उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (UPPSC) द्वारा घोषित किया गया था। भर्ती अभियान कुल 610 रिक्त पदों को भरने के लिए आयोजित किया गया था। अल्पसंख्यक समाज के बच्चों ने भी इस परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन किया. 40 मुस्लि’म उम्मीदवार इस बार परिक्षा पास करने में सफल रहे. इसमें सबसे अच्छी बात ये है कि इनमें से 20 लड़कियाँ रहीं.

यानी कि मु’स्लिम उत्तीर्ण छात्रों में से 50% लड़कियाँ रहीं. शाहनवाज़ सिद्दीकी ने मु’स्लिम उम्मीदवारों की सूची में शीर्ष स्थान हासिल किया, उन्हें 11वीं रैंक मिली; जबकि 33वीं रैंक हासिल करके मुस्लि’म महिला उम्मीदवारों की सूची में खैरुन निसा अव्वल रहीं। UPPSC PCS-J प्रीलिम्स परीक्षा 16 दिसंबर, 2018 को आयोजित की गई थी। UPPSC PCS-J मुख्य परीक्षा 30, 31 जनवरी और 1 फरवरी, 2019 को आयोजित की गई थी।

1847 उम्मीदवारों में से, जो साक्षात्कार के लिए उपस्थित हुए, 610 उम्मीदवारों ने इसे मंजूरी दे दी और इसे अंतिम मेरिट सूची में क्लियर किया। मु’स्लिम उम्मीदवारों के नाम जिन्होंने अंतिम मेरिट सूची में जगह बनाई: मुहम्मद शाहनवाज़ अहमद सिद्दीक़ी, खैरून निसा, जसीम ख़ान, हिना कैसर, आसिफ़ नवाज़ ख़ान, मेहर जहाँ, उमीमा शाहनावा, ज़ीशान मेहँदी.सभी उत्तीर्ण हुए छात्रों को भारत दुनिया की टीम बधाई देती है. जो अभ्यर्थी किसी वजह से नहीं कामयाब हो पाए वो हिम्मत न हा’रें और आगे के इम्तिहान की तैयारी करें.

About Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

View all posts by Arghwan Rabbhi →

Leave a Reply

Your email address will not be published.